DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   लाइफस्टाइल  ›  युवाओं के बीच बढ़ा माइक्रो वेडिंग का ट्रेंड, जानें इस तरह की शादी से कपल्स को होते हैं क्या-क्या फायदे

लाइफस्टाइलयुवाओं के बीच बढ़ा माइक्रो वेडिंग का ट्रेंड, जानें इस तरह की शादी से कपल्स को होते हैं क्या-क्या फायदे

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Manju Mamgain
Thu, 10 Jun 2021 05:30 PM
युवाओं के बीच बढ़ा माइक्रो वेडिंग का ट्रेंड, जानें इस तरह की शादी से कपल्स को होते हैं क्या-क्या फायदे

Micro Wedding Trend: इंडियन वेडिंग न सिर्फ देश बल्कि विदेशों में भी अपने रीति-रिवाज और खान-पान के लिए काफी फेमस है। यहां लोग शादी जैसे उत्सव की तैयारियां महीनों पहले से शुरू कर देते हैं। हालांकि कोरोना नाम की महामारी ने लोगों के जीवन से लेकर शादियों के ट्रेंड में भी काफी बदलाव कर दिया है। आजकल कपल्स के बीच भीड़-भाड़ वाली शादियों की जगह माइक्रो वेडिंग ट्रेंड काफी फेमस हो रहा है। आइए जानते हैं क्या है ये माइक्रो वेडिंग ट्रेंड और कपल्स को इसे करने से मिलते हैं क्या-क्या फायदे।

माइक्रो वेडिंग ट्रेंड -
इस तरह की शादियों में दूल्हे और दुल्हन के अलावा उनके परिवार के बेहद करीबी और अतिथि शामिल होते हैं। इस शादी में कम से कम लोगों को बुलाया जाता है। शादी में शामिल होने वाले लोगों की संख्या अधिकतम 50-100 और कम से कम 20-25 हो सकती है। बावजूद इसके इस तरह की शादी भी बेहद शानदार तरीके से की जाती है। 

माइक्रो वेडिंग की खूबियां-
टूटा पुराना ट्रेंड-

भारत में शादियों पर काफी खर्च किया जाता है। शादी में जितनी भीड़ होती है वो शादी उतनी ही भव्य मानी जाती है। मगर माइक्रो वेडिंग के ट्रेंड में आते ही इस तरह की शादी का चलन कम हो गया है। अब लोग कम से कम भीड़ में शादी करना पसंद कर रहे हैं।    

रूठने-मनाने का चलन भी हुआ खत्म-
ग्रेंड शादियों में गेस्ट की संख्या भी ज्यादा होती है। ऐसे में अगर किसी रिश्तेदार की खातिरदारी में कोई कमी रह जाए तो वो आपसे रूठ जाते थे। लेकिन माइक्रो वेडिंग के कारण कम से कम अतिथि को बुलाया जा रहा है। इस कारण लोगों के रूठने-मनाने के चलन में भी कमी हुई है। 

बिना कर्ज की शादी-
दिखावे के चक्कर में लोग शादी पर इतना खर्च कर देते हैं कि उन पर अच्छा-खासा कर्ज चढ़ जाता है। मगर माइक्रो वेडिंग में लोग अपनी शादी एकदम बजट फ्रेंडली तरीके से कर सकते हैं।

सजावट पर नहीं करनी होगी कटौती-
माइक्रो वेडिंग में लोग कम होते हैं तो उसकी गेद्रिंग के लिए भी छोटी जगह की ही जरूरत पड़ती है। इसलिए कम से कम खर्च में पूरी वेडिंग डेस्टिनेशन की सजावट हो जाती है। कम पैसों में ही हर जगह की सजावट पर बहुत अधिक खर्च नहीं करना पड़ता है।को सजा सकते हैं।  

 

 यह भी पढ़ें : सरकार ने बच्चों के लिए जारी की कोविड-19 गाइडलाइन्स, रेमडेसिविर का उपयोग प्रतिबंधित 

 

संबंधित खबरें