फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ लाइफस्टाइल गर्भवती महिलाएं ओमिक्रॉन वेव से खुद को रखें सुरक्षित, इन टिप्स को करें फॉलो

गर्भवती महिलाएं ओमिक्रॉन वेव से खुद को रखें सुरक्षित, इन टिप्स को करें फॉलो

ओमिकॉन वेरियंट का डर लोगों में बना हुआ है। जहां एक तरफ लोग खुद को सुरक्षित रखना चाह रहे हैं तो वहीं रिपोर्ट्स की माने तो  यह संक्रमक होने के साथ ही हल्के लक्ष्ण पैदा कर रहा है। गर्भवती महिलाओं...

 गर्भवती महिलाएं ओमिक्रॉन वेव से खुद को रखें सुरक्षित, इन टिप्स को करें फॉलो
Avantika Jainटीम लाइव हिंदुस्तान,नई दिल्लीMon, 17 Jan 2022 01:31 PM

इस खबर को सुनें

ओमिकॉन वेरियंट का डर लोगों में बना हुआ है। जहां एक तरफ लोग खुद को सुरक्षित रखना चाह रहे हैं तो वहीं रिपोर्ट्स की माने तो  यह संक्रमक होने के साथ ही हल्के लक्ष्ण पैदा कर रहा है। गर्भवती महिलाओं सहित आम लोगों में गले में खराश, खांसी, शरीर में दर्द, बुखार, नाक बहना, छींक आना और थकान जैसे लक्षण दिखाई देते हैं। मतली, उल्टी और भूख न लगना भी इस नए संक्रमितों के लक्षणों में से हैं। गर्भवती महिलाओं को कोरोना से कई कॉम्पलिकेशन का खतरा होता है और साइटोकाइन स्टॉर्म भ्रूण के विकास पर हानिकारक प्रभाव डाल सकता है।कोरोना की वैक्सीन आपको कई तरह के इंफेक्शन को कम कर सकती है इसी के साथ कोरोना से होनी वाले कॉम्पलिकेशन को भी कम कर सकता है। 

क्या है एक्सपर्ट का कहना

प्रसूति एवं स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ प्रतिमा थमके के मुताबिक  गर्भवती महिलाओं और उनके बच्चों के लिए भी कोविड -19 टीकाकरण सुरक्षित है। टीकाकरण मां को एंटीबॉडी बनाने में मदद करता है। जो शिशुओं को भी सुरक्षित कर सकता है। अध्ययनों से पता चलता है कि टीका गर्भावस्था के दौरान कोई जटिलता नहीं पैदा करता है या प्रभावित नहीं करता है। इस महामारी के दौरान गर्भवती महिलाएं खुद को सुरक्षित रख सकती हैं। इसी के साथ डॉक्टर ने कुछ टिप्स को अपनाने की सलाह भी दी है। जानते हैं- 

सही खाना और रात की नींद 

गर्भावस्था आपके इम्यूनिटी को कम कर सकती है, इसलिए इस दौरान ज्यादा सावधान रहने की जरूरत होती है। आप कोविड के साथ-साथ कई एलर्जी और संक्रमण से पीड़ित हो सकते हैं। ऐसे में पौष्टिक खाना खाकर इम्युनिटी को बढ़ाने की कोशिश करें। जंक, मसालेदार, तैलीया, डिब्बाबंद खाना खाने से बचें। इसी के साथ पर्याप्त आराम करना और रात को अच्छी नींद लेना बेहद जरूरी है।

 

खुद को रखें एक्टिव 

कोरोना के जोखिम से बचने के लिए गर्भवती महिलाएं को खुद को एक्टिव रखने की जरूरत है। कोविड के कारण होने वाले तनाव और चिंता को कम करने के लिए कोई भी योग और ध्यान करें।  ये आपके फेफड़ों के कामकाज में सुधार के लिए डॉक्टर द्वारा सुझाए गए सांस व्यायाम करने की भी सलाह दी जाती है।

 

ज्यादा लोगों को न बुलाएं घर 

बीमार लोगों के आसपास रहने से बचें। गर्भवती महिलाओं को सुरक्षित रहने के लिए सामाजिक समारोहों और भीड़-भाड़ वाली जगहों से बचना चाहिए। अगर आप गर्भवती हैं और कोविड से बीमार हैं तो खुद को क्वारंटाइन करें और डॉक्टर के कहे अनुसार रहें। समय-समय पर अपने तापमान और ऑक्सीजन के स्तर को चेक करें। किसी के संपर्क में आने से बचें। इसी के साथ जो आपकी देखभाल कर रहा है उसी पूरी तरह से टीका लगाया होना चाहिए। 

यह भी पढ़े :  ओमिक्रोन आपकी गट हेल्थ को भी कर सकता है प्रभावित, जानिए इसके लक्षण

इन बातों का रखें खास ख्याल

- फर्नीचर, दरवाजे के हैंडल जैसी चीजों को छूने के बाद अपने चेहरे या मुंह को न छुएं।

- मास्क पहनें, सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें और हाथों को अच्छी तरह से धोएं या सैनिटाइज करें।

- चेक-अप के लिए बाहर निकलने के बजाय आप ऑनलाइन कंसलटेंट का विकल्प चुन सकते हैं।

- सुरक्षित रहने के लिए अपने सभी आवश्यक सामान जैसे दवाएं या किराने का सामान स्टॉक करें।

epaper