फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ लाइफस्टाइलBaby Care Tips: बच्चे की पहली सर्दी कर सकती है बीमार, इन बातों का रखें खास ख्याल

Baby Care Tips: बच्चे की पहली सर्दी कर सकती है बीमार, इन बातों का रखें खास ख्याल

Newborn Baby Winter Care: सर्द मौसम की ठंडी और शुष्क हवा उनकी त्वचा की नमी छीन सकती है, जिससे उन्हें कई तरह की त्वचा संबंधी परेशानियां भी हो सकती हैं। आइए जानते हैं कैसे इस विंटर रखें अपने बच्चे का ध्

Baby Care Tips: बच्चे की पहली सर्दी कर सकती है बीमार, इन बातों का रखें खास ख्याल
Manju Mamgainलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीTue, 06 Dec 2022 03:51 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

Newborn Baby Winter Care: बदलते मौसम का सबसे पहला असर छोटे बच्चों पर नजर आता है। ऐसे में अगर आप पहली बार माता-पिता बने हैं तो आपको इस विंटर सीजन अपने बच्चे का खास ख्याल रखने की जरूरत है। दरअसल, इस मौसम में संक्रामक बीमार‍ियों का खतरा बढ़ जाता है। ठंडे माहौल में वायरस और बैक्टीरिया तेजी से बढ़ते हुए छोटे बच्चों को बीमार बना सकते हैं।  नवजात श‍िशुओं की इम्‍यून‍िटी पूरी तरह से व‍िकस‍ित नहीं होने पर बच्चे बीमार‍ियों की चपेट में आसानी से आ जाते हैं। इसके अलावा छोटे बच्चों की त्वचा बहुत कोमल होती है। सर्द मौसम की ठंडी और शुष्क हवा उनकी त्वचा की नमी छीन सकती है, जिससे उन्हें कई तरह की त्वचा संबंधी परेशानियां भी हो सकती हैं। आइए जानते हैं कैसे इस विंटर रखें अपने बच्चे का ध्यान। 

बच्चे को ज्‍यादा कपड़े न पहनाएं- 
अक्सर नए-नए बने माता-पिता अपने नवजात शिशु को ठंड से बचाए रखने के लिए जरूरत से ज्यादा कपड़े पहनाकर रखते हैं। लेकिन नवजात को ठंड से बचाने के ल‍िए उसे जरूरत से ज्‍यादा ढकना सही नहीं है। ऐसा करने से श‍िशु के शरीर में ज्‍यादा गरमाहट बन जाती है। जिसकी वजह से उसे बेचैनी और ब्रीद‍िंग प्रॉब्‍लम महसूस हो सकती है। 

गुनगुने तेल से करें मालिश- 
शिशु को नहलाने के बाद उनके शरीर की मालिश जरूरी है। बच्चों की मालिश के लिए आप बादाम के तेल, ऑलिव के तेल या नारियल के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं। इन सभी तेलों में त्वचा को स्वस्थ रखने वाले पोषक तत्व होते हैं। इसके अलावा ये तेल त्वचा को नम रखते हैं। ध्यान दें कि बच्चों की नाजुक त्वचा पर कभी भी बाजार में मिलने वाले केमिकलयुक्त प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल न करें।

ज्यादा गर्म पानी से न नहलाएं- 
गर्म पानी ठंडे मौसम में शरीर को अच्छा जरूर लगता है, मगर ये त्वचा की प्राकृतिक नमी को छीन लेता है। इसलिए सादे पानी में थोड़ा सा गर्म पानी मिलाकर, इसके तापमान को सामान्य कर लें, मगर बहुत गर्म न करें।

नेज़ल ड्रॉप्स-
सर्दियों में बच्चों में नाक बंद होने की समस्या आम है। डॉक्टर के बताए अनुसार नेजल ड्रॉप्स यानी नाक में डाली जाने वाली दवा अपने पास जरूर रखें। ताकि जरूरत पड़ने पर आप उसका इस्तेमाल कर सकें। 

मोजे पहनाना न भूलें-
सर्दियों में बच्चों के कपड़ों का खास ख्याल रखें। इस मौसम में आपकी थोड़ी सी भी लापरवाही बच्चे की सेहत पर भारी पड़ सकती है। मौसम बदलते ही गर्म कपड़ों के साथ बच्चे को मोजे और टोपी जरूर पहनाकर रखें। हल्की ठंड को नजरअंदाज ना करें। 

ना खिलाएं ठंडी चीजें-
सर्दी में भूल से भी बच्चे को ठंडी चीजें ना खिलाएं। अगर आपका बच्चा 7 माह से अधिक का है और वह खाना खाता है, तो उसे ठंडी चीजें न खिलाएं और साथ ही उसे बासी खाना या ठंडा खाना भी न दें।

वैक्‍सीन जरूर लगवाएं- 
सर्दि‍यां आने के साथ फ्लू और संक्रामक रोगों का खतरा भी बढ़ जाता है। ये मौसम नवजात श‍िशु के ल‍िए नाजुक होता है। माता-प‍िता को श‍िशु को सभी जरूरी वैक्‍सीन समय पर लगवाने चाह‍िए। ज‍िन बच्‍चों की उम्र 6 माह या उससे ज्‍यादा है, उन्‍हें फ्लू शॉट लग सकता है। 

सर्द‍ियों में धूप है जरूरी  -
व‍िटाम‍िन डी की पूर्त‍ि के ल‍िए श‍िशु को हफ्ते में 1 से 2 बार 10 म‍िनट के ल‍िए धूप में लेकर जाएं। लेकिन सुबह की हल्‍की धूप ही श‍िशु के ल‍िए अच्‍छी रहेगी।

पढ़े Lifestyle tips in Hindi लाइफस्टाइल न्यूज के अलावा लेटेस्ट travel tips, fashion trends और Health Tips