DA Image
2 दिसंबर, 2020|8:09|IST

अगली स्टोरी

बढ़ते प्रदूषण के बीच लंग्स को बनाए रखती हैं हेल्दी ये 4 ब्रीदिंग एक्सरसाइज, आप भी कर सकते हैं ट्राई

international yoga day 2020

Breathing Exercises to Help You Deal With Hazardous Air Pollution: बढ़ते प्रदूषण और कोरोना वायरस के कहर ने लोगों के फेफड़ों पर बहुत बुरा असर डाला है। जिसकी वजह से कई लोगों को सांस लेने में तकलीफ भी महसूस होने लगी है। फेफड़ों के कमजोर होने से शरीर भी कमजोर होने लगता है। ऐसा इसलिए क्योंकि फेफड़ों के द्वारा ही पूरे शरीर में ऑक्सीजन पहुंचती है। ऐसे में अपने फेफड़ों को मजबूत बनाए रखने के लिए आप कुछ एक्सरसाइज अपने डेली रूटीन में शामिल कर सकते हैं। आइए जानते हैं आखिर क्या हैं वो आसान ब्रीदिंग एक्सरसाइज। 

भस्त्रिका प्राणायाम (Bhastrika Pranayama)-
भस्त्रिका प्राणायाम का मतलब होता है धौंकनी। भस्त्रिका प्राणायाम को जल्दी-जल्दी करना होता है। आसन को करते समय शुद्ध प्राणवायु को अन्दर ले जाते हैं और अशुद्ध वायु को बाहर फेंकते हैं। इस आसन को करने से पेट की चर्बी कम होती, फेफडों को मजबूती मिलती है।

कपालभाति प्राणायाम-
कपालभाति प्राणायाम को भी जल्दी-जल्दी करना होता है। इस प्राणायाम को करते समय सांस को अंदर की ओर खीचें और सांस को नाक से बहार फेंके। इसे करने से मन को शांती मिलती है, खून शुद्ध होता है और खून में ऑक्सीजन की मात्रा भी बढ़ती है।

अनुलोम विलोम प्राणायाम-
अनुलोम विलोम प्राणायाम करने के लिए नाक की एक छिद्र से सांस खींचें और दूसरी और से निकालें। इसी तरह नाक के दोनों तरफ से करना होता है। हर रोज इस योग को आप 4-5 मिनट जरूर करें। ऐसा करने से फेफड़े मजबूत और नाड़ी शुद्ध होती है। 

अग्निसार क्रिया-
अग्निसार क्रिया पेट के विषाक्त पदार्थों को साफ करने में मदद करती है। साथ ही आपके इम्यून सिस्टम या इम्यूनिटी को भी मजबूत बनाती है।

यह भी पढ़ें - स्पोर्ट्स ब्रा और मोजे सहित, जानिए योग के दौरान आपको क्‍या पहनना चाहिए और क्‍या नहीं 

 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:National Pollution Control Day: Fight pollution These breathing exercises can keep lungs and heart stronger amidst increasing pollution know how to do it