DA Image
24 फरवरी, 2020|6:40|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ऑफिस लव अफेयर से निपटने के लिए कंपनी ने किया था कुछ ऐसा, लेकिन बुरी तरह फेल रहा आईडिया

office

ऑफिस में लव अफेयर के किस्से आजकल आम हो चुके हैं। ऐसे में आप अगर वर्किंग हैं, तो आप इस बात से इंकार नहीं कर सकते कि हर कंपनी में एक-दो ऐसे मामले देखने को आते हैं। ऐसे में यह लव अफेयर किसी को पसंद हो या न हो लेकिन कंपनी का रूख ऐसे मामलों को लेकर काफी साफ रहता है। कई कंपनीज ऐसी हैं, जहां इस तरह के रिलेशनशिप से निपटने के लिए कुछ नियम बनाए गए हैं और इनमें से कुछ नियम बेहद दिलचस्प है- 


ऑफिस अफेयर्स को लेकर कुछ समय पहले एक एचआर फर्म इंटरवेव कंसल्टिंग की सीईओ निर्मला मेनन के अनुसार करीब 12 से 15 साल पहले कुछ कंपनियों ने अपने उन एंप्लाइज को डेटिंग अलाउंस देना शुरू किया था, जिनका ऑफिस अफेयर था। इसके पीछे कंपनी की नीति थी काम करने के बेहतर माहौल में एंप्लाइज से बेहरीन आउटपुट लिया जा सकता है। हालांकि, बाद में यह पॉलिसी कुछ सही साबित नहीं हो पाई। 


साल 2019 की एक घटना है जब मैक डॉनल्ड के सीईओ स्टीव ईस्टरब्रूक को अपनी एक सबॉर्डिनेट के साथ इमोशनल रिलेशन रखने के लिए फायर कर दिया गया था। ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि उनकी कंपनी की पॉलिसी में ऑफिस अफेयर्स को लेकर कोई सॉफ्ट रूल नहीं है। दुनियाभर की एचआर पॉलिसीज पर काम करनेवाले एंटॉनी एलेक्स के अनुसार, ऐसा नहीं कि इंप्लॉइज को अपने रिलेशन के बारे में एचआर को तभी जानकारी देनी होती है, जब वे एक ही टीम में काम कर रहे हों। अगर आप सेम ऑर्गेनाइजेशन का हिस्सा होकर अलग-अलग टीम में भी काम कर रहे हैं, तब भी आपको अपने रिश्ते के बारे में बताना होता है।
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:multinational companies different rules on office love affair