know how your earphones can make you deaf here are 5 side effects of using earphones - ईयरफोन का इस्तेमाल दे सकता है आपको ये 5 बड़ी बीमारियां, हो जाएं सतर्क DA Image
21 फरवरी, 2020|3:09|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ईयरफोन का इस्तेमाल दे सकता है आपको ये 5 बड़ी बीमारियां, हो जाएं सतर्क

side effects of using earphones

अगर आप भी मेट्रो या लंबे सफर के दौरान कानों में ईयरफोन या हेडफोन लगाकर गंटों गाने सुनते हैं तो सतर्क हो जाएं आपकी ये आदत आपको खतरे में डाल सकती है। ऐसा करने से आपके कानों के साथ-साथ आपके शरीर को भी काफी नुकसान हो सकता है। आइए जानते हैं आखिर कैसे। 

कानों में इंफेक्शन-
लंबे समय तक ईयरफोन लगाकर गाने सुनने से कान का इंफेक्शन हो सकता है। बता दें, कान 65 डेसिबल तक की ध्वनि को सहन कर सकता है। अगर कोई व्यक्ति 40 घंटे से अधिक देर तक ईयरफोन पर 90 डेसिबल की ध्वनि पर कोई चीज सुनता है तो कान की नसें पूरी तरह से डेड हो सकती हैं।

दिमाग पर बुरा प्रभाव-
ईयरफोन से लंबे समय तक गाना सुनने से दिमाग पर भी बुरा प्रभाव पड़ता है। ईयरफोन से निकलने वाली विद्युत चुंबकीय तरंगे दिमाग के सेल्स को काफी क्षति पहुंचाती हैं। आज लगभग पचास प्रतिशत युवाओं में कान की समस्या का कारण ईयरफोन्स का अत्यधिक प्रयोग है। ईयरफोन्स के अत्यधिक प्रयोग से कान में दर्द, सिर दर्द या नींद न आने जैसी सामान्य समस्याएं हो सकती हैं।

कान सुन्न होना-
लंबे समय तक ईयरफोन से गाना सुनने से कान सुन्न हो जाता है जिससे धीरे-धीरे सुनने की क्षमता जा सकती है। तेज आवाज में संगीत सुनने से मानसिक समस्याएं तो पैदा करती ही है इससे हृदय रोग और कैंसर का भी खतरा बढ़ जाता है़। उम्र बढ़ने के साथ बीमारियां सामने आने लगती है़ यह बाहरी भाग के कान के परदे को नुकसान पहुंचाने के साथ-साथ अंदरूनी हेयरसेल्स को भी तकलीफ पहुंचाता है़ उम्र बढ़ने के साथ बिमारियां सामने आने लगती है़।

कम सुनाई देना-
कानों की सुनने की क्षमता महज 90 डेसिबल होती है जो लगातार सुनने से धीरे-धीरे 40 से 50  डेसिबल तक कम हो जाती है। जिससे दूर की आवाज सुनाई नहीं देती हैं। जिसकी वजह से बहरेपन की शिकायत होने लगती है।

कान के पर्दे पर बुरा असर-
तेज आवाज के चलते आपके कान के पर्दे में लगातार वाईब्रेट होने लगती हैं। जिसके कारण कान के पर्दे के फटने की खतरा रहता है।

बचाव के तरीके-
-ईयरफोन का इस्तेमाल कम से कम करें। 
-ईयरफोन लगाकर काम करना जरूरी हो तो एक घंटे पर कम से कम 5 मिनट का ब्रेक लें। 
-अच्छी क्वालिटी के ही हेडफोन्स या ईयरफोन्स का प्रयोग करें।
-ईयरबड की जगह अच्छे हेडफोन का प्रयोग करें।
-ईयरफोन पर हुई एक रिसर्च के अनुसार यदि कोई व्यक्ति रोजाना एक घंटे से ज्यादा समय 80 डेसीबेल्स से अधिक तेज ध्वनि में संगीत सुनता है तो लगभग 5 सालों में उसे सुनने में कठिनाई महसूस हो सकती है। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:know how your earphones can make you deaf here are 5 side effects of using earphones