Wednesday, January 19, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ लाइफस्टाइलघर का काम करने से याददाश्त ही नहीं पैरों की मासपेशियां भी होती हैं मजबूत, जानें क्या कहता है अध्ययन

घर का काम करने से याददाश्त ही नहीं पैरों की मासपेशियां भी होती हैं मजबूत, जानें क्या कहता है अध्ययन

एजेंसी,लंदनManju Mamgain
Mon, 29 Nov 2021 11:34 AM
घर का काम करने से याददाश्त ही नहीं पैरों की मासपेशियां भी होती हैं मजबूत, जानें क्या कहता है अध्ययन

इस खबर को सुनें

एक नए अध्ययन के अनुसार बड़े वयस्क जो घर का काम करते हैं, उनकी याददाश्त तेज होती है। साथ ही उनकी ध्यान लगाने के समय में बढ़ोतरी होती है और पैर मजबूत होने के साथ ही गिरने से सुरक्षा भी मिलती है। अध्ययन के निष्कर्ष ओपन-एक्सेस जर्नल 'बीएमजे ओपन' में प्रकाशित हुए है। 

शोधकर्ता 21 से 90 साल के बीच के 489 वयस्कों में अध्ययन करने के बाद इस निष्कर्ष पर पहुंचे हैं। सभी सिंगापुर के एक बड़े आवासीय शहर में स्वतंत्र रूप से रह रहे थे, और घर के दैनिक कार्यों को करने में सक्षम थे।

शोधकर्ताओं के मुताबिक अध्ययन के निष्कर्ष अन्य नियमित मनोरंजक और कार्यस्थल शारीरिक गतिविधियों, और सक्रिय आवागमन से स्वतंत्र थे और पूरी तरह से घर के काम पर आधारित हैं।

शोधकर्ताओं ने कहा कि शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए नियमित शारीरिक गतिविधि अच्छी है। वहीं वृद्धों में यह दीर्घकालिक स्थितियों, गिरने,  निर्भरता और मृत्यु के जोखिमों को कम करता है। 

epaper
सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें