DA Image
Thursday, December 9, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ लाइफस्टाइलKarwa Chauth Health Tips : करवाचौथ व्रत खोलने के बाद इन चीजों से करें डिनर की शुरुआत, नहीं होगी एसिडिटी

Karwa Chauth Health Tips : करवाचौथ व्रत खोलने के बाद इन चीजों से करें डिनर की शुरुआत, नहीं होगी एसिडिटी

लाइव हिन्दुस्तान टीम ,नई दिल्ली Pratima Jaiswal
Sat, 23 Oct 2021 03:54 PM
Karwa Chauth Health Tips : करवाचौथ व्रत खोलने के बाद इन चीजों से करें डिनर की शुरुआत, नहीं होगी एसिडिटी

करवाचौथ का व्रत सबसे मुश्किल व्रतों में से एक माना जाता है। पूरे दिन पानी की एक बूंद तक न पीने से एनर्जी लेवल बिल्कुल डाउन हो जाता है। ऐसे में कभी-कभी ऐसा होता है व्रत खोलने के बाद कुछ लोग ज्यादा पानी पी लेते हैं या फिर हैवी फूड खा लेते हैं, जिससे पेट दर्द, उल्टी या दस्त जैसी परेशानी हो जाती है। कभी-कभी तो कुछ फूड्स को खाने से फूड पॉयजनिंग तक हो जाती है। ऐसे में आप भी अगर करवाचौथ का व्रत रख रहे हैं, तो आपको हेल्थ प्रॉब्लम्स से बचने के लिए पानी पीने के बाद इन चीजों को खाने के बाद डिनर करना चाहिए। इन चीजों को खाने से आपको एनर्जी मिलेगी। 


खीर
इसमें प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट्स होते हैं। इससे एनर्जी मिलती है। यह व्रत खोलने के बाद लगने वाली कमजोरी से बचाने में आपकी करेगी। हालांकि, इसे बनाने में चीनी की कम मात्रा का उपयोग करें, ताकि वजन नियंत्रित रह सके। आप चाहें, तो गुड में भी खीर बना सकते हैं।

 

नींबू पानी
व्रत खोलने के बाद नींबू पानी लें। यह आपके पेट में बन रहे एसिड को दूर करता है। आप चाहें तो संतरे का भी सेवन कर सकती हैं। यह डिहाइड्रेशन और कमजोरी से बचाने में मदद करता है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स और विटामिन सी तुरंत एनर्जी देते हैं।


अंजीर, किशमिश
मुट्ठीभर ड्रायफ्रूट्स जैसे अंजीर या किशमिश जरूर खाएं। इससे शुगर लेवल मेंटेन रहता है और थकान महसूस नहीं होती है। व्रत के बाद होने वाली थकान से बचने के लिए इसे खाना फायदेमंद है। अंजीर को एक गिलास गुनगुने दूध के साथ भी ले सकते हैं। ये आपको भरपूर एनर्जी देने में मददगार होता है।

 

सेब या केला
करवाचौथ का व्रत खोलने के बाद सेब या केला खाएं। इसमें फ्लेवोनॉइड्स, एंटीऑक्सीडेंट्स और मिनरल्स होते हैं, जिससे कमजोरी नहीं लगती। साथ ही इम्यूनिटी भी बढ़ती है। व्रत खोलने के बाद होने वाली डलनेस से बचाने में फल आपकी मदद करते हैं। मौसमी और ताजा कटे फल ही खाएं। 


खजूर
इससे इंस्टेंट एनर्जी मिलती है। उपवास के बाद होने वाली कमजोरी दूर करने के लिए भी इसे खाना फायदेमंद है। इसमें फाइबर की मात्रा अधिक होती है। जिससे आपका डाइजेशन ठीक रहता है। खजूर उपवास के बाद होने वाली पेट संबंधी समस्याओं से बचाने में आपकी मदद करता है।

 

मल्टीग्रेन आटा
आप मल्टीग्रेन आटे की रोटी बना सकते हैं। सब्जियों में लौकी, कद्दू, टमाटर, भिंडी, दाल व दही जैसे पाचक व हल्की चीजें ले सकते हैं। दिनभर व्रत के बाद यह आसानी से पच जाएगा।

 

यह भी पढ़ें : त्योहारों के इस मौसम में थोड़ी मिठास घोलने के लिए बनाएं सीताफल बासुंदी, जानिए इसकी आसान रेसिपी

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें