DA Image
Wednesday, December 1, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ लाइफस्टाइलक्या आने वाले त्योहारों के लिए तैयार है आपकी स्किन? इन 3 स्टेप में पाएं फेस्टिव ग्लो

क्या आने वाले त्योहारों के लिए तैयार है आपकी स्किन? इन 3 स्टेप में पाएं फेस्टिव ग्लो

टीम लाइव हिंदुस्तान,नई दिल्लीAvantika
Tue, 05 Oct 2021 08:22 AM
क्या आने वाले त्योहारों के लिए तैयार है आपकी स्किन? इन 3 स्टेप में पाएं फेस्टिव ग्लो

कुछ दिनों बाद से त्योहारों का सीजन शुरू हो जाएगा। पहले नवरात्रे, दशहरा, करवाचौथ और फिर दिवाली, ऐसे में हर कोई अपने अलग लुक क्रिएट करने को बेसब्री से त्योहारों का इंतजार कर रहा है। ऐसे में खूबसूरत दिखने के लिए हर किसी को फ्लॉलेस स्किन चाहिए। स्किन पर ग्लो के लिए सबसे जरूरी है स्किन का पूरी तरह से साफ होना। ऐसे में रोजाना इन तीन स्टेप्स को फॉलो कर आप भी फ्लॉलेस स्किन पा सकते हैं। आइए, जानते हैं-

1) एक्सफोलिएट 

मुहांसे होने के कई कारण हो सकते हैं, लेकिन अक्सर चेहरे पर मुहांसों का कारण  जब आपकी स्किन ऑयली यानी तैलिया हो। इसलिए दिन की शरूआत से पहले ये जरूरी है कि आप चेहरे  को अच्छी से एक्सफोलिएट करें। ये ब्लॉक सीबेशियस ग्लैंड्स से डील करने में मदद करता है।   एक्सफोलिएट करने से रोमछिद्रों को बंद करने में मदद मिलती है और इसी तरह से सीबम के प्रोडक्शन को रोका जा सकता है। अगर आपकी एक्ने प्रोन स्किन है तो आपको हर हफ्ते में कम से कम दो बार एक्सफोलिएट करना चाहिए।  हालांकि अगर आपकी त्वचा को बार-बार एक्सफोलिएट करने से जलन नहीं होती है, तो आपको दिन में एक बार एक्सफोलिएट कर सकते हैं। 

2) क्लींजिंग

एक्सफोलिएटिंग के बाद आपका दूसरा स्टेप क्लिंजिंग होना चाहिए। ये उन बैक्टीरिया से निपटने में मदद करता है जो मुंहासे के लिए जिम्मेदार हैं। बैक्टीरिया की कॉलोनियां आपकी स्किन पर हर समय रहती हैं, ऐसे में त्वचा के स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए ये जरूरी हैं। ये बैक्टीरिया आपकी त्वचा द्वारा उत्पादित तेल पर फीड करते हैं, और जब तेल का स्तर अधिक होता है, तो बैक्टीरिया अधिक प्रजनन करते हैं। बैक्टिरिया संक्रमण तब होता है जब कुछ प्रकार के बैक्टिरिया का स्तर बढ़ जाता है। फिर इनकी वजह से ब्रेकआउट होता हैं। इसलिए क्लींजिंग जरूरी है। ऐसा करने से संपर्क में आने वाले बैक्टीरिया दूर हो जाते हैं, जिसकी वजह से ब्रेकआउट की समस्या दूर हो जाती है। 

3) मॉइश्चराइज

स्किन को क्लीन या एक्सफोलिएट करते हैं, तो त्वचा से गंदगी, ग्रीस, बैक्टीरिया और अन्य पर्यावरण प्रदूषक दूर हो जाते हैं। ये सभी सकारात्मक रिजल्ट हैं, लेकिन इस प्रक्रिया में त्वचा के लिए फायदेमंद नमी और पोषक तत्व भी कम हो जाते हैं। क्लींजिंग और एक्सफोलिएटिंग के बाद मॉइस्चराइज जरूर करें। 

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें