DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   लाइफस्टाइल  ›  International Yoga Day 2021 : रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर आपको तनाव मुक्त रखते हैं ये योगासन
लाइफस्टाइल

International Yoga Day 2021 : रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर आपको तनाव मुक्त रखते हैं ये योगासन

लाइव हिन्दुस्तान टीम ,नई दिल्ली Published By: Pratima Jaiswal
Thu, 17 Jun 2021 03:52 PM
International Yoga Day 2021 : रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर आपको तनाव मुक्त रखते हैं ये योगासन

यह योग मानसिक स्वास्थ्य जैसे- तनाव, चिंता और डिप्रेशन जैसी समस्या को कम करता है। इससे शराब और धूम्रपान की लत छूट जाती है। वजन कम करने वाले लोगों के लिए भी यह आसन फायदेमंद होता है। पेट से जुड़ी समस्या जैसे- कब्ज, दस्त और एसिडिटी को कम करता है।
 

मजबूत फेफड़े के लिए मत्स्यासन:
कोरोना वायरस का संक्रमण सबसे पहले फेफड़ों को निशाना बनाता है। ऐसे में कई ऐसे आसन हैं जो हमारे फेफड़ों को इतना मजबूत कर देते हैं कि वह बाहरी हमलों का आसानी से सामना कर सकता है। इन आसनों में मुखासन, ताड़ासन, मत्स्यासन और शंशाकासन विशेष रूप से लाभदायक हैं। ये आसन क्रोध, भय, शोक, आदि आवेशों पर नियंत्रण रखने समेत भावनात्मक असंतुलन दूर करने में भी मदद करते हैं।
 

हर अंग के लिए अच्छा सूर्य नमस्कार:
सूर्य नमस्कार में कुल 12 योगासन होते हैं। सूर्योदय से पहले उठकर 15 मिनट के लिए सूर्य नमस्कार करने से स्वास्थ्य हमेशा अच्छा रहता है। यह दर्जनभर योगासनों का संयोजन है, इसलिए यह शरीर के हर अंग को फायदा पहुंचाता है। सूर्य नमस्कार में श्वसन प्रक्रिया अधिक होती है, इसलिए फेफड़ों के लिए भी यह काफी अच्छा माना जाता है।
 

प्रतिरक्षा क्षमता बढ़ाता है भुजंगासन:
हमारे शरीर के प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत बनाने के तीन घटक हैं- थाइमस ग्रंथि, लिंफ और स्प्लीन। कुछ खास आसनों से हम इन तीनों घटकों को सक्रिय करके अपनी प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत कर सकते हैं। इसके लिए अधोमुख स्वान आसन, विपरीत करनी आसन, चक्रासन और भुजंगासन विशेष रूप से लाभदायक हैं। ये आसन हमरे शरीर की टी-कोशिकाओं को सक्रिय करते हैं जो संक्रमण से हमें बचाती हैं।

यह भी पढ़ें - अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस : ये 5 आसन उनके लिए जो हमेशा जल्‍दी में रहती हैं

 

 

संबंधित खबरें