फोटो गैलरी

Hindi News लाइफस्टाइलInternational Kissing Day: किस करने वाले पार्टनर कम देते हैं धोखा, जानें और भी फायदे

International Kissing Day: किस करने वाले पार्टनर कम देते हैं धोखा, जानें और भी फायदे

किस करना प्यार जताने का खास तरीका होता है। मूड अच्छा करने और किसी के साथ आपका बॉन्ड मजबूत करने के अलावा ये आपकी मेंटल और फिजिकल हेल्थ के लिए भी अच्छा होता है। यह बात कई स्टडीज में सामने आ चुकी है।...

International Kissing Day: किस करने वाले पार्टनर कम देते हैं धोखा, जानें और भी फायदे
टीम लाइव हिंदुस्तान,मुंबईTue, 06 Jul 2021 10:21 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

किस करना प्यार जताने का खास तरीका होता है। मूड अच्छा करने और किसी के साथ आपका बॉन्ड मजबूत करने के अलावा ये आपकी मेंटल और फिजिकल हेल्थ के लिए भी अच्छा होता है। यह बात कई स्टडीज में सामने आ चुकी है। वैलंटाइन्स वीक में मनाया जाने वाला किस डे पॉप्युलर है। वहीं हर साल 6 जुलाई को इंटरनैशनल किस डे मनाया जाता है। 

 

स्टडीज में सामने आ चुके फायदे

दोस्त, बच्चे, पेरेंट्स, भाई-बहन, लवर या पार्टनर किस करना इन सबके प्रति प्यार जताने का अहम तरीका है। किस करके हम दूसरे के प्रति अपनी मजबूत बॉन्डिंग दर्शाते हैं। यह सोशल बॉन्डिंग के पुराने तरीकों में से एक है। किस करने से सिर्फ आपको थोड़े वक्त की खुशी ही नहीं मिलती बल्कि इससे आपका पार्टनर भी हेल्दी रहता है। कई स्टडीज में यह बात सामने आ चुकी है कि मूड अच्छा करने, आपका रिश्ता मजबूत करने के अलावा किस करने से आपकी हेल्थ को कई फायदे होते हैं। यहां जानिए किस करने के फायदे...


किस से रिलीज होते हैं हैपी हॉरमोन

किस आपके ब्रेन को हैपी हॉरमोन ऑक्सीटोसिन, डोपामीना और सेरोटोनिन रिलीज करने के लिए प्रेरित करता है। ये हॉरमोन्स आपमें प्यार और मजबूत बॉन्डिंग का अहसास करवाते हैं। किस करने से स्ट्रेस हॉरमोन कॉर्टिसॉल भी कम होता है और खुशी का अहसास बढ़ता है।


लॉयल रहता है पार्टनर

किस एक बढ़िया डिस्ट्रैक्शन के तौर पर काम करता है। यह स्ट्रेस पैदा करने वाले कई मुद्दों से आपका दिमाग हटाता है। जैसे ही ऑक्सीटोसिन का लेवल बढ़ता है, आपको शांति का अहसास होता है और आप रिलैक्स होते हैं। 2013 में हुई एक स्टडी में यह बात सामने आी थी कि ऑक्सीटोसिन की वजह से पुरुष अपने पार्टनर से ज्यादा जुड़ाव महसूस करते हैं और दूसरे पार्टनर की ओर नहीं भटकते। वहीं महिलाएं बच्चे के जन्म के बाद और ब्रेस्ट फीडिंग के दौरान ऑक्सीटोसिन रिलीज की वजह से बच्चे से गहरा जुड़ाव महसूस करती हैं।


कम होती है एलर्जी

किस करने से कई तरह की एलर्जीस से राहत मिलती है। इनमें पराग कण और घरेलू डस्ट और माइट्स से होने वाली एलर्जीस शामिल हैं। माना जाता है कि स्ट्रेस की वजह से एलर्जी बढ़ जाती है इसलिए किस इन एलर्जिक रिस्पॉन्स को कम करता है।


किस से बर्न होती है कैलोरीज

आप जिम जाने और एक्सरसाइज में कच्चे हैं तो कैलोरी बर्न का ये तरीका शायद आपको पसंद आ सकता है। आप किस करके प्रति मिनट 2 से 26 कैलोरी बर्न कर सकते हैं। यह इस बात पर भी निर्भर करता है कि आप कितने पैशनेट किसर हैं। इससे आपका वजन तो कम होगा ही साथ ही आप स्ट्रेस फ्री भी रहेंगे।


फेस का वर्कआउट

ब्रिटिश शोधकर्ताओं के मुताबिक, हर फ्रेंच किस में 146 मसल्स का मूवमेंट होता है। इनमें 34 फेशियल मसल्स होती हैं। नियमित रूप से किस करना आपके चेहरे और गर्दन के लिए अच्छा वर्कआउट है। इससे आपके चेहरे पर कोलैजन का प्रोडक्शन होता है और स्किन पर एजिंग साइन जल्दी नहीं आते साथ ही ब्लड सर्कुलेशन से चेहरे पर ग्लो आता है। 

 

यह भी पढ़ें : इंटरनेशनल चॉकलेट डे : चलिए आज तोड़ते हैं चॉकलेट और आपके बीच के सारे मिथ्स

 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें