DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   लाइफस्टाइल  ›  International Day of Families : कहीं दिलों में दूरी न बढ़ा दे महामारी! परिवार के साथ ऐसे बिताएं क्वालिटी टाइम

जीवन शैलीInternational Day of Families : कहीं दिलों में दूरी न बढ़ा दे महामारी! परिवार के साथ ऐसे बिताएं क्वालिटी टाइम

लाइव हिन्दुस्तान टीम ,नई दिल्ली Published By: Pratima Jaiswal
Sat, 15 May 2021 12:47 PM
International Day of Families : कहीं दिलों में दूरी न बढ़ा दे महामारी! परिवार के साथ ऐसे बिताएं क्वालिटी टाइम

हम सब जानते हैं कि भारतीय संस्कृति में परिवार का बहुत महत्व है और कोरोना काल में परिवार की यह ताकत ही हम सबकी हिम्मत बन रही है। इस वक्त ने हम सभी को घरों तक सीमित कर दिया है हैं। कोरोना के नियमों के चलते सभी सामाजिक दूरी का असर कहीं न कहीं दिलों पर भी पड़ रहा है, लोग बीमारी से बचाव के लिए एक ही घर में रहते हुए भी दूर हैं। वहीं, ये दूरियां उन घरों में और भी बढ़ती है जहां पर कोई कोरोना की चपेट में होता है। ऐसे में यह वक्त न सिर्फ हमें परिवार के मायने सिखाता है बल्कि मुश्किल समय में परिवार का साथ न छोड़ने के लिए भी प्रेरित करता है। आज अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस (International Day of Families 2021) पर जानते हैं कि किस तरह सामाजिक दूरी का पालन करते हुए परिवार और रिश्तों की गर्माहट को बनाए रखा जाए।


कोरोना को न बनने दें दूरियों की वजह 
सकारात्मक असर ’लोगों को निजी रिश्तों और बच्चों को समय देने का मौका मिला, रिश्तों में ताजगी आई। ’लोग अपनी व अपनों की स्वच्छता व सेहत के प्रति सजग हुए। वहीं, नकारात्मक असर ’महिलाओं के खिलाफ घरेलू हिंसा बढ़ीं। इसके अलावा समय पर शादी न होने से रिश्तों में खटास आई। ’तलाक के केस में 25 फीसदी की वृद्धि के साथ लोग घर-परिवार के लोगों से बातचीत नहीं बल्कि इंटरनेट पर ज्यादा समय बिताने लगे।


ऐसे हल करें रिश्तों की चुनौती
कुछ वक्त अपना साथ जरूरी
साथ होने का मतलब हर वक्त एक-दूसरे से बात करने की अनिवार्यता नहीं है। कुछ समय अपने लिए भी निकालें, इससे झगड़े नहीं होंगे। 

 

family day 2021


भावनात्मक सहयोग दें 
करियर कोच मार्टी नेमको कहते हैं कि इस वक्त आर्थिक व स्वास्थ्य संकट के कारण अपने साथी के बदले व्यवहार को समझना जरूरी है। उन्हें समझाएं कि वे अकेले नहीं हैं। 


सामाजिक दूरी मन की दूरी नहीं 
ऐसे समय में लोगों को अपनों से अपनी भावनाएं ज्यादा बयां करनी चाहिए। सामाजिक दूरी का पालन करते हुए अपने दोस्त और रिश्तेदारों से संवाद करते रहें। पड़ोसी और रिश्तेदारों से बनी रहे गर्माहट ’व्हाट्सएप ग्रुप पर पड़ोसियों के साथ सुख-दुख बांटते रहें। ’रिश्तेदारों से वीडियो या फोन कॉल पर बात करें। ’किसी आयोजन के लिए निमंत्रण मिले तो विनम्रतापूर्वक उन्हें बताएं कि आप समूह में जाने से बच रहे हैं। 

 

होम पार्टी का मजा
लॉकडाउन या कोरोना महामारी के दौरान बाहर पार्टी करना खतरे से खाली नहीं है।  ऐसे में आप परिवार के साथ होम पार्टी अरेंज कर सकते हैं। पार्टी को अगर किसी थीम के अनुसार आयोजित किया जाए, तो यह और ज्यादा मनोरंजक बन सकती हैं।  पार्टी में बच्चे और बुर्जुगों के हिसाब से सोच-समझकर पार्टी थीम रखनी चाहिए। 

 

हैंडमेड गिफ्ट्स 
बाहर से सामान खरीदना मुश्किल है और सेफ भी नहीं कहा जा सकता इसलिए आप हाथ से बनाए गए सामान या कार्ड दे सकते हैं। हैंडीक्राफ्ट, हैंडमेड कुकीज, टॉफी, चॉकलेट गिफ्ट करने से भा आप अपनों ने करीब आएंगे।  

यह भी पढ़ें - यहां 5 कारण दिए गए हैं कि क्यों जरूरत पड़ने पर बुरा नहीं है ल्यूब का इस्तेमाल करना

 

 

संबंधित खबरें