DA Image
हिंदी न्यूज़ › लाइफस्टाइल › कोरोना से उबरने में अश्वगंधा के फायदों पर अध्ययन करेंगे भारत-ब्रिटेन
लाइफस्टाइल

कोरोना से उबरने में अश्वगंधा के फायदों पर अध्ययन करेंगे भारत-ब्रिटेन

एजेंसी ,नई दिल्लीPublished By: Manju Mamgain
Mon, 02 Aug 2021 08:19 AM
कोरोना से उबरने में अश्वगंधा के फायदों पर अध्ययन करेंगे भारत-ब्रिटेन

आयुष मंत्रालय ने कोविड-19 से उबरने में परंपरागत जड़ी-बूटी अश्वगंधा के लाभों का अध्ययन करने के लिए ब्रिटेन के लंदन स्कूल ऑफ हाइजिन एंड ट्रॉपिकल मेडिसिन (एलएसएचटीएम) के साथ एक समझौता किया है।

मंत्रालय के अधीन स्वायत्त संस्था अखिल भारतीय आयुर्वेद संस्थान (एआईआईए) तथा एलएसएचटीएम ने ब्रिटेन के तीन शहरों लेसिस्टर, बर्मिंघम और लंदन (साउथ हॉल और वेंबले) में 2,000 लोगों पर अश्वगंधा का चिकित्सीय परीक्षण करने के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं।

मंत्रालय की ओर से कहा गया, अश्वगंधा एक परंपरागत जड़ी-बूटी है जो तनाव घटाती है और प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाती है। यह आसानी से उपलब्ध है तथा ब्रिटेन में इसे पोषण के पूरक की तरह लिया जाता है और यह सुरक्षित है।

अगर परीक्षण सफल रहता है तो भारत की परंपरागत औषधि प्रणाली को वैज्ञानिक वैधता मिल सकती है। एआईआईए की निदेशक डॉ. तनुजा मनोज नेसारी ने कहा, तीन महीने तक 1000 प्रतिभागियों के एक समूह को अश्वगंधा की गोलियां दी जाएंगी जबकि इतने ही लोगों के दूसरे समूह को इसी के समान दिखने वाली अन्य गोलियां दी जाएंगी। किसे कौन सी गोली दी गई है, इस बारे में मरीजों यहां तक कि चिकित्सकों को भी नहीं बताया जाएगा।

संबंधित खबरें