फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ लाइफस्टाइलनाइट केयर में शामिल करें तिल का तेल, हेल्दी स्किन के साथ मिलेंगे कई अमेजिंग बेनिफिट्स

नाइट केयर में शामिल करें तिल का तेल, हेल्दी स्किन के साथ मिलेंगे कई अमेजिंग बेनिफिट्स

सर्दियों के मौसम में स्किन बहुत ज्यादा ड्राई होने लगती है। जिसकी वजह से खुजली और रेडनेस होने लगती है। जिसकी वजह से सर्दियों में लोगों को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। अगर आपको ठंड के...

नाइट केयर में शामिल करें तिल का तेल, हेल्दी स्किन के साथ मिलेंगे कई अमेजिंग बेनिफिट्स
Avantika Jainटीम लाइव हिंदुस्तान,नई दिल्लीWed, 19 Jan 2022 05:36 PM

इस खबर को सुनें

सर्दियों के मौसम में स्किन बहुत ज्यादा ड्राई होने लगती है। जिसकी वजह से खुजली और रेडनेस होने लगती है। जिसकी वजह से सर्दियों में लोगों को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। अगर आपको ठंड के मौसम में अपने सौंदर्य को बढ़ाने में मुश्किल हो रही है तो आप तील के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं।

घुटनों और कोहनी पर तिल का तेल लगाने के फायदे

 

ब्लड सर्कुलेशन में करता है सुधार

 

तिल के तेल से मालिश करने वाले तेल के रूप में इस्तेमाल किया जाता है क्योंकि यह विटामिन और मिनरल्स जैसे तांबा, जस्ता और कैल्शियम सहित पोषक तत्वों से भरा होता है। तेल शरीर में ब्लड सर्कुलेशन में सुधार करने के लिए भी जाना जाता है। माना जाता है कि तिल का तेल शरीर में रेड ब्लड सेल्स के उत्पादन में मदद करता है।

 

हड्डियों को करता है मजबूत 

 

तिल के तेल में जिंक अच्छी मात्रा में होता है जो हड्डियों की डेनसिटी को बढ़ाता है। इस प्रकार यह हड्डियों की क्वालिटी को बढ़ाने के लिए जाना जाता है। दूसरी ओर कॉपर में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो जोड़ों में दर्द और सूजन को कम करने में मदद करते हैं। वहीं, तिल का तेल हड्डियों और जोड़ों को मजबूत करने के लिए जाना जाता है।

 

हड्डी के विकास में करता है मदद 

 

तिल का तेल कुल मिलाकर हमारी हड्डियों के लिए बहुत अच्छा होता है। इसमें मौजूद ओमेगा 3 फैटी एसिड और मोनोसैचुरेटेड फैट हमारे हड्डियों के स्वास्थ्य को बढ़ावा देते हैं। ऐसा माना जाता है कि नियमित रूप से तिल लगाने से हड्डियों को बढ़ने और शरीर में विकास करने में मदद मिलती है। 

 

जोड़ों के दर्द से मिलेगी राहत

 

अगर आप जोड़ों के दर्द से परेशान हैं तो आपको अपने घुटनों और कोहनी पर तिल का तेल जरूर लगाना चाहिए। तिल के तेल में दर्द और परेशानी को कम करने की क्षमता होती है। यह दर्द, जोड़ों के लिए अच्छा मालिश का तेल है।

 

स्किन को करता है मॉइस्चराइज

 

सर्दियों के मौसम में हमारी स्किन को प्राकृतिक तेलों से पोषण देना और भी जरूरी हो जाता है। तिल के तेल का इस्तेमाल करने से बेहतर कुछ नहीं है। तिल के तेल से जल्दी मालिश करने से स्किन में नमी आती है। यह आपकी स्किन पर रूखेपन को रोकता है।

 

रोजाना रात को अपनी हथेली पर थोड़ा सा तिल का तेल लें और अपने हाथों को रगड़ें। एक बार जब तेल थोड़ा गर्म लगने लगे, तो अपने घुटनों और कोहनियों पर लगाएं। हल्के हाथ से मालिश करें ।

epaper