फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ लाइफस्टाइलकहीं आप तो नहीं खरीद रहे नकली N95 मास्क? ऐसे करें असली की पहचान

कहीं आप तो नहीं खरीद रहे नकली N95 मास्क? ऐसे करें असली की पहचान

कोरोना से बचने के लिए मास्क बेहद जरूरी है। महामारी की शुरुआत से ही N95 मास्क चर्चा में है। ओमिक्रॉन वैरियंट और तीसरी लहर के बीच एक बार फिर से N95 मास्क पहनने पर जोर दिया जा रहा है। इस बीच मार्केट में...

कहीं आप तो नहीं खरीद रहे नकली N95 मास्क? ऐसे करें असली की पहचान
Kajal Sharmaटीम, लाइव हिंदुस्तान,मुंबईTue, 11 Jan 2022 05:21 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

कोरोना से बचने के लिए मास्क बेहद जरूरी है। महामारी की शुरुआत से ही N95 मास्क चर्चा में है। ओमिक्रॉन वैरियंट और तीसरी लहर के बीच एक बार फिर से N95 मास्क पहनने पर जोर दिया जा रहा है। इस बीच मार्केट में तरह-तरह के डिजाइनर मास्क बिक रहे हैं। साथ ही बड़ी संख्या में नकली N95 मास्क भी बनाए जा रहे हैं। ऐसे में लोग वायरस से बचने के लिए N95 मास्क के पैसे चुका रहे हैं लेकिन बड़ा रिस्क मोल ले रहे हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि आप मास्क लगाकर बेफिक्र हो जाते हैं और तभी वायरस को आपके शरीर में घुसने का मौका मिल सकता है। अगर आपके मन में भी ये सवाल है कि असली और नकली मास्क की पहचान कैसे की जाए तो यहां बताई जा रही जानकारी आपके काम की हो सकती है।


ऐसे वायरस की एंट्री रोकता है N95 मास्क


कोरोना वायरस नाक से घुसकर हमारे गले में पहुंचता है। यहां मल्टिप्लाई होकर धीरे-धीरे हमारे फेफड़ों और सिस्टम में पहुंच जाता है। वायरस की एंट्री शरीर में न हो इसके लिए जरूरी है कि हम एक्सपर्ट के बताए तरीके से मास्क पहने। ज्यादातर डॉक्टर्स N95 मास्क या डबल मास्किंग की सलाह दे रहे हैं। N95 थोड़ा महंगा होता है लेकिन आपकी सुरक्षा के लिहाज से काफी इफेक्टिव माना जाता है। यूएस फूड ऐंड ड्रग ऐडमिनिस्ट्रेशन (FDA) के मुताबिक, N95 रिस्पिरेटर इस तरह से बना होता है कि इससे कोई एयरबोर्न पार्टिकल्स अंदर न जा पाएं। यह चेहरे पर बहुत चिपककर फिट होता है। 


चश्मे से करें असली और नकली की पहचान


FDA के मुताबिक, इसके किनारे चेहरे और मुंह के चारों तरफ सील की तरह होते हैं। एक्सपर्ट्स बताते हैं कि अगर आप चेक करना चाहते हैं कि आपका मास्क असली है या नकली तो चश्मा पहनकर सांस लें। अगर इस पर धुंध छा जाए तो मतलब है कि हवा पास होनी की जगह है। इसका मतलब है कि आपका मास्क नकली हो सकता है। 


प्रोडक्ट का डिस्क्रिप्शन चेक करें


आप कपड़े का मास्क या सर्जिकल मास्क पहनकर इसी तरह से चेक करेंगे तो भी धुंध आ जाएगी क्योंकि इनकी फिटिंग लूज होती है। बाजार में N95 के चाइनीज और कोरियन वर्जन भी अवेलेबल हैं। अगर आप ऑनलाइन N95 मास्क खरीद रहे हैं तो इसके ब्रैंड का नाम CDC इनडेक्स पर चेक कर सकते हैं। यहां यह पता चल सकता है कि इसको NIOSH ने अप्रूव किया है या नहीं। कई कंपनियां प्रोडक्ट के डिस्क्रिप्शन में खुद चेक करने का तरीका देती हैं। 


चेक करें मास्क का रिव्यू
 

मास्क पर आपको NIOSH भी प्रिंट दिखेगा। साथ में टेस्टिंग और सर्टिफिकेशन कोड लिखा होता है। इसमें  'TC' के बाद कुछ नंबर्स होते हैं। फिल्टर के क्लास के हिसाब से N, P या  R हो सकता है और इसकी इफीसिएंसी के लिए 95, 99 या 100 जैसे नंबर्स होते हैं। इसके अलावा रिव्यू भी पढ़ लें। पॉजिटिव के साथ नेगेटिव रिव्यू जरूर पढ़ें तो आपको प्रोडक्ट की कमियां आसानी से पता चल जाएंगी।

epaper