DA Image
31 अक्तूबर, 2020|4:21|IST

अगली स्टोरी

दिल की सेहत को लेकर हैं परेशान तो डाइट में शामिल करें हिल्सा मछली

hilsa fish

दिल की सेहत को लेकर परेशान हैं तो हिल्सा मछली खाना शुरू कर दें। इसमें मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड धमनियों में जमे कोलेस्ट्रॉल को बाहर निकालता है। इससे हार्ट अटैक और स्ट्रोक से मौत के खतरे में कमी आती है। यूरोपियन सोसाइटी ऑफ कार्डियोलॉजी के हालिया सम्मेलन में पेश एक ब्रिटिश अध्ययन में यह दावा किया गया है।

शोधकर्ताओं ने हिल्सा में मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड से एक कैप्सूल भी तैयार किया है। दिन में दो बार कैप्सूल खिलाने पर मरीज की धमनियों में जमा कोलेस्ट्रॉल छंट गया। इससे नसों में खून का बहाव को सुचारु हुआ ही, साथ में रक्त के थक्के जमने का खतरा भी घट गया।

दवा बनाने वाली कंपनी अमरीन कॉरपोरेशन के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. क्रेग ग्रैनविट्ज ने बताया कि चिली और अर्जेंटीना के समुद्री तटों पर हिल्सा मछली की विभिन्न नस्लों से निकाले गए ओमेगा-3 फैटी एसिड से इस दवा का निर्माण किया गया है। ओमेगा-3 फूड सप्लीमेंट लेने से दिल की सेहत पर इस तरह के प्रभावी परिणाम प्राप्त नहीं किए जा सके, जितने इस कैप्सूल से हासिल हुए।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:heart health: Hilsa fish reduces risk of death from heart attack and stroke