DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Health Tips: मां  बनने की  खुशी दब न जाए काम के बोझ तले

lucknow

मां बनना एक सुखद अहसास होता है। मगर ये एक बड़ी जिम्मेदारी भी होती है। महिलाओं के पास यूं ही कामों की लंबी लिस्ट होती है, मगर मां बनने के बाद ये और लंबी हो जाती है। ऐसे में चिड़चिड़ाहट हो सकती है। मगर तनाव लेने के बजाय अगर जिम्मेदारियों के बोझ को किस तरह हल्का किया जाए इस विचार करने की जरूरत है। 

दूसरों की मदद लें

सभी कामों का बोझ अपने कंधों पर लेकर न चलें, इससे आपका चिड़चिड़ापन बढ़ सकता है। जो काम घर का कोई दूसरा सदस्य कर सकता हो या बाहर से आप करवा सकती हों तो उन कामों को छोड़ दें। जैसे कि आपके पास बाहर से लॉन्ड्री का विकल्प हो तो इसे चुनें, ताकि आप थोड़ा आराम महसूस करें और अपने परिवार के साथ समय बिता सकें। आप अपने बच्चों में भी छोटे-मोटे काम में आपकी मदद करने की आदत डाल सकती हैं। 

योजना बनाकर चलें

दो घंटे से भी कम के समय में अपने बच्चे के लिए टिफिन बनाना, उन्हें तैयार करना और समय पर स्कूल बस में भेजना आसान काम नहीं होता। ऐसे में जाहिर है गुस्सा और तनाव भी हो सकता है, मगर इसे कम करने के लिए सुबह के लिए थोड़ी-बहुत तैयारी रात को ही कर लें। अपने बच्चे से एक घंटे पहले उठने की कोशिश करें, ताकि आप अपनी खिड़की पर बैठकर एक कप चाय पीकर शांति से अपने दिन की शुरुआत कर सकें।

सूझबूझ और धैर्य से काम करें

जब आपको लगता है कि आपने सारा काम खत्म कर दिया और चीजें अब नियंत्रण में हैं, ठीक तभी आपका बच्चा  कोई चीज तोड़ देता है या फिर कोई नुकसान कर देता है। ऐसे में उस पर गुस्सा निकालने के बजाय आंखें बंद करके लंबी सांसे लें। कई बार चीजों को दूसरे नजरिए से देखना आपकी सहायता कर सकता है। सोच लीजिए कि कहीं आपका बच्चा वह चीज कैसे चलती है यह समझने की कोशिश कर रहा हो और तब ही उसके हाथ से वह चीज छूट गई हो। उन पर बरसने के बजाय यह जानने की कोशिश करें कि उन्होंने ऐसा जान-बूझ कर किया या गलती से ऐसा हो गया।

थोड़े समय के लिए छुट्टी लें

आप जितना ज्यादा काम को निपटाने की कोशिश करती हैं, उतनी ही काम के खराब होने की संभावना बढ़ जाती है। ऐसे में कम में ही खुशी तलाशने की कोशिश करें। ऐसे कामों से अपने दिन की योजना न बनाएं, जिन्हें आप एक साथ नहीं संभाल सकतीं। महीने में कुछ दिन ऐसे तय करें, जब आप खाना नहीं बनाएंगी या फिर रोजमर्रा के काम नहीं करेंगी। यानी कि एक दिन आपकी छुट्टी का हो। बच्चों को खुद ही कुछ काम करने का मौका दें, फिर चाहे वे उसमें कितनी ही गड़बड़ क्यों न करें। इससे आपको फुर्सत भी मिलेगी और बच्चे भी सीखेंगे। 

ज्यादा न सोचें

आप चाहे जितना भी कर लें, वह कभी पूरा नहीं पड़ेगा इसलिए आप जो नहीं कर पा रही हैं, उसके लिए निराश होने की जरूरत नहीं है। तनाव महसूस करने पर योग करें या फिर अच्छा संगीत सुनें। उन दोस्तों के साथ बाहर जाएं, जिनके बच्चे न हों, ताकि आपको बच्चों के अलावा भी कुछ अलग अनुभव सुनने को मिलें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Health Tips The joy of being a mother should not be suppressed under the burden of work