Tuesday, January 18, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ लाइफस्टाइलसर्दी-जुकाम में अपनाएं दादी-नानी का ये गुड़ वाला नुस्खा, जल्द मिलेगा आराम

सर्दी-जुकाम में अपनाएं दादी-नानी का ये गुड़ वाला नुस्खा, जल्द मिलेगा आराम

टीम लाइव हिंदुस्तान,नई दिल्लीAvantika
Mon, 29 Nov 2021 12:17 PM
सर्दी-जुकाम में अपनाएं दादी-नानी का ये गुड़ वाला नुस्खा, जल्द मिलेगा आराम

इस खबर को सुनें

सर्दी के मौसम में अक्सर लोगों की नाक बंद और खांसी होने लगती है। ऐसे में कोरोना के इस दौर में अपने इम्यून सिस्टम की हम थोड़ी एक्सट्रा केयर कर रहे हैं, ऐसे में अगर सर्दी हो जाए तो हर कोई जल्द से जल्द ठीक होने की कोशिश करता है। ऐसे में दादी-नानी द्वारा बताया गया ये घरेलू उपाय आपके खूब काम आ सकता है। साथ ही घर में ये एक ऐसा नुस्खा है जो स्वाद में बेहद टेस्टी भी होता है। इसे उपाय को आप छोटे बच्चे से लेकर बड़ों तक को दे सकते हैं। जानते हैं इसे बनाने का तरीका और फायदे-

क्या चाहिए

इसे बनाने के लिए आपको अदरक, देसी घी और गुड़ की जरूरत होती है। इसे बनाने के लिए आप अगर पाउडर गुड़ का इस्तेमाल करेंगे तो अच्छा रहेगा। 

कैसे बनाएं

इसे आप चम्मच में भी बना सकते हैं। अगर ये आप एक व्यक्ति के लिए बना रहे हैं। इसके लिए सबसे पहले चम्मच में एक चम्मच देसी घी लें और इसमें कद्दूकस किया अदर डालें। फिर धीमी आंच पर पकाएं और 30 सेकेंड बाद इसमें गुड़ मिलाएं। अच्छे से मिक्स करें और 30 सेकेंड के लिए पकाएं। एक दूसरी कटोरी में डालें और पीएं। 

क्या हैं इसके फायदे

गुड़- गुड़ में गर्माहट होती है, जो मौसमी खांसी और सर्दी के लिए प्रभावी है। यह इम्यूनिटी को भी बढ़ाता है और शरीर के तापमान को नियंत्रित करता है।

अदरक- अदरक को कच्चे या आधे-पके हुए रूप में सेवन करने से गले में खराश के दर्द को कम करने में मदद मिलती है। विशेषज्ञों के मुताबिक, अदरक के एंटी इंफ्लामेटरी गुण सूजन से राहत देकर गले की खराश को शांत करने में मदद करते हैं। अदरक शरीर में प्रो-इंफ्लेमेटरी प्रोटीन को रोकता है, जिससे गले में दर्द और खुजली होती है।

घी- गर्म घी गले में खांसी को कम करने में मदद करता है । आयुर्वेद घी को बंद नाक, खांसी और सर्दी के लिए एक अच्छा उपाय मानता है।

ध्यान दें

जब आप इस नुस्खे को अपनाते हैं तो कम से कम 25 से 30 मिनट तक पानी न पिएं। 

epaper
सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें