DA Image
13 अगस्त, 2020|6:16|IST

अगली स्टोरी

गर्भवती संक्रमित महिलाओं में नहीं दिख रहे कोरोना के लक्षण, बचाव के लिए करें ये उपाय

कोरोना महामारी में गर्भवती महिलाओं को काफी सतर्क रहने की जरूरत है। इस वायरस से मंडल में अब तक संक्रमित मिली सभी 37 गर्भवती महिलाओं में एक भी लक्षण स्पष्ट नहीं था। अलग-अलग कारणों से जांच कराने के बाद उनमें कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। मोती लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज के स्त्री रोग विभाग के चिकित्सक भी इससे अचम्भित हैं। वह इसपर अध्ययन की बात कह रहे हैं। 

कोरोना वायरस से संक्रमित गर्भवती महिलाओं की संख्या में जिले में 24 से अधिक है। इनमें 15 प्रसूताओं का समय पूरा होने के कारण संक्रमण के दौरान ही ऑपरेशन से उनकी डिलेवरी भी कराई गई। एसआरएन अस्पताल के कोरोना वार्ड के नोडल डॉ. सुजीत वर्मा ने बताया किसी में भी कोरोना संक्रमण के लक्षण नहीं थे। कुछ ने प्रसव से पहले डॉक्टर की सलाह पर जांच कराई तो किसी की जांच परिवार में अन्य लोगों के संक्रमित होने पर की गई। कुछ गर्भवती महिलाओं की ट्रेवेल हिस्ट्री के आधार पर भी जांच हुई थी। रिपोर्ट में संक्रमण की पुष्टि हुई है।  

प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होने का है असर- 
डॉ. अमृता चौरिसया ने बताया कि गर्भवती महिलाओं का प्रसव का समय जैसे-जैसे करीब आता है उनके शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता काफी कम होती जाती है। इसीलिए वह इस जानलेवा वायरस के संक्रमण की चपेट में अन्य लोगों की अपेक्षा जल्दी आ जाती है। परिजनों को चाहिए कि वह उन्हें घर में सुरक्षित स्थान पर रखें। बाहर आने-जाने वाले घर के बाकी सदस्यों से जरूर बचाएं। 

पर्याप्त मात्रा में लें विटामिन एवं प्रोटीन- 
कोरोना वायरस से बचने के लिए गर्भवती महिलाओं को शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बेहतर बनानी होगी। डॉ. अमृता चौरसिया बताती हैं कि इसके लिए उन्हें विटामिन ए, सी एवं डी युक्त वाले खाद्य पदार्थों को अधिक मात्रा लेना होगा। 

एक नवजात भी मिला संक्रमित-
एसआरएन अस्पताल में कोरोना संक्रमित अब तक कुल 15 गर्भवती महिलाओं ने बच्चे को जन्म दिया है। इनमें एक सिर्फ एक नवजात ही कोरोना संक्रमित मिला था। बाकी सभी नवजात की रिपोर्ट निगेटिव आई थी। इसपर भी मेडिसिन विभाग के चिकित्सक अध्ययन कर रहे हैं। 

इनका कहना है- 
हैरानी की बात है कि अब तक संक्रमित किसी भी गर्भवती महिलाओं में कोरोना का लक्षण नहीं दिखा। यह शोध का विषय है। गर्भवती महिलाएं रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए विटामिन ए, सी व डी के साथ प्रोटीन की पर्याप्त मात्रा जरूर लें। उन्हें घर के बाकी सदस्यों से बचाएं। वह उनके संपर्क में आने से बचें, जो घर के बाहर रह रहे हैं। 
डॉ. अमृता चौरसिया, एचओडी, गाइनी विभाग, एमएलएन मेडिकल कॉलेज। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Covid-19:Symptoms of corona not seen in pregnant infected women should take these measures of prevention