DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   लाइफस्टाइल  ›  Covid-19:गंभीर रोगों वाले मरीजों के लिए ज्यादा घातक रहा कोरोना, अध्ययन में खुलासा

जीवन शैलीCovid-19:गंभीर रोगों वाले मरीजों के लिए ज्यादा घातक रहा कोरोना, अध्ययन में खुलासा

एजेंसी,कोलकाताPublished By: Manju Mamgain
Wed, 09 Dec 2020 04:58 PM
Covid-19:गंभीर रोगों वाले मरीजों के लिए ज्यादा घातक रहा कोरोना, अध्ययन में खुलासा

पश्चिम बंगाल में उच्च रक्तचाप, मधुमेह, हृदय, गुर्दे की समस्या, सीओपीडी जैसे गंभीर रोग से पीड़ित मरीजों के लिए कोविड-19 ज्यादा जानलेवा साबित हुआ। राज्य के स्वास्थ्य विभाग के एक अध्ययन से यह निष्कर्ष निकला है। 

अध्ययन में कहा गया कि नवंबर के अंतिम सप्ताह तक कोरोना वायरस से जान गंवाने वाली 30 प्रतिशत महिलाएं उच्च रक्तचाप से जूझ रही थीं। वहीं, दम तोड़ने वाले 28 प्रतिशत पुरुष भी इससे जूझ रहे थे। कोविड-19 की चपेट में आई कम से कम 24.5 प्रतिशत महिलाएं मधुमेह से पीड़ित थीं, जबकि 24.2 प्रतिशत पुरुष भी इससे ग्रसित थे।

कोरोना से मृत 10.6 प्रतिशत लोग हृदय संबंधी गंभीर बीमारियों से जूझ रहे थे। संक्रमण के कारण दम तोड़ने वाले 10.2 प्रतिशत लोगों को गुर्दे की बीमारी थी। पश्चिम बंगाल के सभी जिलों में किए गए अध्ययन में कहा गया कि क्रोनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज (सीओपीडी) से 5.5 प्रतिशत पुरुष और 3.9 प्रतिशत महिलाएं जूझ रही थीं। अध्ययन के मुताबिक, कैंसर और डायलिसिस की स्थिति में कोविड-19 महिलाओं के लिए ज्यादा घातक रहा। 

राज्य में मार्च में पहली मौत :
पश्चिम बंगाल में कोरोना से पहली मौत मार्च में हुई थी। पुरुषों के मामलों में मृत्यु दर दो प्रतिशत से नीचे और महिलाओं के मामले में 1.5 प्रतिशत से नीचे है। राज्य में संक्रमण से मृत्यु दर 1.7 फीसदी है, जबकि राष्ट्रीय स्तर पर यह दर 1.4 फीसदी है। 

संबंधित खबरें