DA Image
18 नवंबर, 2020|11:03|IST

अगली स्टोरी

Covid-19: प्रारंभिक चरण में सुरक्षित रहा चीन का 'कोरोनावैक' टीका, अध्ययन में दावा

coronavirus vaccine  file pic

चीन में कोरोना संक्रमण के लिए ‘कोरोनावैक’ टीके के प्रारंभिक चरण के क्लिनिकल ट्रायल के परिणामों के सुरक्षित होने का दावा किया गया है। यह दवा शुरुआती दौर में 18 से 59 वर्ष की आयु के स्वस्थ लोगों में एंटीबॉडीज विकसित करने में कामयाब रही है। 

लैन्सेट इंफेक्शियस डिजीज जर्नल में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार संक्रमण का टीका बनाने की दौड़ में शामिल ‘कोरोनावैक’ के पहले टीकाकारण के 28 दिन के भीतर यह लोगों में एंटीबॉडीज प्रतिक्रिया पैदा कर सकता है। चीन के जियांग्सू प्रोविंशियल सेंटर फॉर डिजीस कंट्रोल के शोधकर्ताओं ने सर्वाधिक एंटीबॉडीज प्रतिक्रिया पैदा करने के लिए सबसे ज्यादा डोज का पता लगाने का दावा किया है। 

अध्ययन के सह लेखक फेंगकई झू के मुताबिक, हमारा अध्ययन बताता है कि ‘कोरोनावैक’ के दो डोज 14 दिन के अंतराल में दिए जाने पर यह टीकाकारण के चार सप्ताह के भीतर सर्वाधिक एंटीबॉडीज प्रतिक्रिया पैदा करने में सक्षम है। उन्होंने कहा, लंबे अंतराल में जब कोविड-19का खतरा कम हो जाएगा, तब एक माह के अंतर में दो डोज देना दीर्घकालिक प्रतिरोधी तंत्र विकसित करने के लिए पर्याप्त रहेगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Covid-19: study claims China Coronavac vaccine safe in early stage