DA Image
14 अगस्त, 2020|5:11|IST

अगली स्टोरी

Covid-19:उच्च रक्तचाप की दवा से कोरोना मरीजों को जोखिम नहीं, शोध में खुलासा

which are the best yoga poses for high blood pressure

उच्च रक्तचाप की दवाओं से कोविड-19 के मरीजों को अधिक जोखिम नहीं है। नए शोध में इसका खुलासा हुआ है। इससे पहले कुछ विशेषज्ञों ने इसको लेकर आशंका जताई थी। यूएस सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन ने अप्रैल, 2020 में एक ​रिपोर्ट दी थी। उसमें कहा गया था कि अस्पतालों भर्ती कोरोना के 72 फीसदी मरीज 65 वर्ष या उससे अधिक या फिर उच्च रक्तचाप से ग्रसित थे। 

इसके बाद ब्लड प्रेशर कम करने वाली दो दवाओं एसीई और एआरबी की जांच की गई। इसमें पता चला कि कोरोना वायरस फेफड़ों पर हमला करने के लिए जिस जैविक मार्ग का उपयोग करता है ठीक वैसा कार्य एसीई और एआरबी करता है। इसके बाद ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने कहा कि जब तक इन दवाओं के बारे में सटीक जानकारी नहीं मिल जाती है तब तक इन दवाओं का उपयोग बंद कर देना चाहिए, जबकि दूसरों का तर्क था कि रोगियों को दवा लगातार लेनी चाहिए। वहीं, बाल्टीमोर में जॉन्स हॉपकिन्स सेंटर फॉर ड्रग सेफ्टी एंड इफ़ेक्टिविटी के विशेषज्ञ ने इस बहस को सबसे महत्वपूर्ण बताया।

इलाज बंद नहीं करें- 
इस नए शोध को शुक्रवार को प्रकाशित किया गया। अध्ययन में कहा गया है कि अन्य दवाओं की तुलना में एसीई और एआरबी का उपयोग करने वाले मरीजों में जोखिम नहीं पाया गया है। इसके बाद शोधकर्ताओं ने मरीजों को कोविड-19 से बचने के लिए अपना इलाज बंद नहीं करने की सलाह दी है। अध्ययन में संयुक्त राज्य अमेरिका और स्पेन के 1.1 मिलियन रोगियों पर उच्च रक्तचाप की दवाओं का इलेक्ट्रॉनिक मेडिकल रिकॉर्ड का विश्लेषण किया गया है। 

आश्वस्त करने वाला निष्कर्ष - 
शोध के नेतृत्वकर्ता और कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय के बायोस्टैटिस्टिशियन मार्क सुचर्ड ने कहा कि हमारे निष्कर्ष काफी आश्वस्त करने वाला है। उन्होंने कहा कि एक एसीई या एआरबी लेना उतना ही सुरक्षित है, जितना उच्च रक्तचाप के लिए कोई अन्य दवा। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Covid-19: Research Reveals High Blood Pressure Medication Does Not Risk Corona Patients