फोटो गैलरी

Hindi News लाइफस्टाइलCovid-19 : ताजी हवा और धूप से रुकेगा कोरोनावायरस का प्रसार, जानें कैसे

Covid-19 : ताजी हवा और धूप से रुकेगा कोरोनावायरस का प्रसार, जानें कैसे

ताजी हवा और धूप में समय बिताने से कोरोनावायरस से संक्रमित होने का जोखिम कम हो सकता है। ब्रिटेन सरकार के एक सलाहकार वैज्ञानिक ने ये जानकारी दी है। अब लोगों को घर से बाहर समय बिताने की अनुमित दी गई है,...

Covid-19 : ताजी हवा और धूप से रुकेगा कोरोनावायरस का प्रसार, जानें कैसे
एजेंसी ,लंदनFri, 15 May 2020 09:47 PM
ऐप पर पढ़ें

ताजी हवा और धूप में समय बिताने से कोरोनावायरस से संक्रमित होने का जोखिम कम हो सकता है। ब्रिटेन सरकार के एक सलाहकार वैज्ञानिक ने ये जानकारी दी है। अब लोगों को घर से बाहर समय बिताने की अनुमित दी गई है, लेकिन साथ ही उन्हें सामाजिक दूरी का भी पालन करने को कहा गया है। 52 दिनों के लॉकडाउन के बाद प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने पाबंदियों में पहली ढील दी है। 

गर्वनमेंट साइंटिफिक एडवाइजरी ग्रुप फॉर इमरजेंसीज के सदस्य प्रोफेसर एलेन पेन ने पार्क में जाने वालों को आश्वस्त करते हुए कहा कि विज्ञान सुझाव देता है कि धूप और ताजी हवा वायरस से बचाव करने में मदद करते हैं। दूसरे वैज्ञानिकों ने कहा कि वे वैज्ञानिक पेन के बात से पूरा तरह सहमत हैं और घर से बाहर ज्यादा समय बिताने के सुझाव का समर्थन करते हैं। 

अंदर बीमार होने का खतरा ज्यादा- 
इमारतों के अंदर लोग कई लोगों के साथ रहते हैं और वहां संक्रमण होने की अधिक संभावना होती है क्यों यहां वेंटिलेशन खराब होता और अजनबी नियमित रूप से एक ही सतहों को छूते हैं। वैज्ञानिकों ने कहा कि वायरस सूरज की रोशनी में बाहर की सतहों पर जीवित रहने में कम सक्षम होते हैं, क्योंकि पराबैगनी किरणें उनकी आनुवंशिक सामग्री को क्षतिग्रस्त कर देती हैं। प्रोफेसर पेन की सलाह पर सरकार ने लोगों को बाहर जाकर व्यायाम करने और पार्कों में धूप में बैठने की अनुमति दे दी है। हालांकि, इस दौरान उन्हें सामाजिक दूरी के नियमों का पालन करना होगा। प्रोफेसर पेन ने कहा बाहर जाने से संक्रमण का खतरा कम है, लेकिन अगर लोगों ने सामाजिक दूरी के नियमों का पालन नहीं किया तो संक्रमण के मामलों में फिर से बढ़ोतरी हो सकती है। 

यूनिवर्सिटी ऑफ ईस्ट एंगलिया के प्रोफेसर पॉउल हंटर ने कहा कि वे पेन की बातों से पूरी तरह सहमत हैं। उन्होंने कहा, 'बाहर होने के बारे में बड़ी बात यह है कि बूंदों को हवा से उड़ा दिया जाता है, अगर हवा चल रही हो तो आमतौर पर संक्रमित बूंदें बहुत जल्दी उड़ जाती हैं। बाहर खड़े होकर किसी से बात करते समय फेस मास्क के साथ दो मीटर की दूरी बनाए रखनी चाहिए। बाहर की सतहों पर मौजूद वायरस भी धूप की रोशनी के संपर्क में आकर नष्ट हो जाते हैं। धूप से विटामिन डी का स्तर भी बढ़ता है जो कोरोनावायरस से बचाव में बेहद अहम पाया गया है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें