DA Image
27 नवंबर, 2020|2:27|IST

अगली स्टोरी

Covid-19: 'वर्क फ्रॉम होम' से ऊब चुके हैं तो इन देशों का करें रुख, तनाव की होगी छुट्टी

barbados

‘वर्क फ्रॉम होम’ से ऊब चुके हैं? मन में हर पल यही ख्याल आता है कि समुद्री लहरों या हसीन वादियों के बीच किराए पर कोई कमरा लेकर ऑफिस का काम करें? हालांकि, तकनीकी बाधाओं के बारे में सोचकर शहर छोड़ने की हिम्मत नहीं जुटा पाते? अगर हां तो परेशान मत होइए। बेहतर इंटरनेट कनेक्टिविटी से लैस एंटिगुआ एवं बरबुडा, जर्मनी, बारबाडोस, बरमुडा, एस्टोनिया सहित तमाम देशों ने आपकी इस उलझन का हल खोज निकाला है। उन्होंने छोटी अवधि के विशेष वीजा पेश किए हैं, ताकि कर्मचारी प्रकृति की गोद में बैठकर तनावमुक्त होकर अपना काम निपटा सकें।

1.एंटिगुआ एवं बरबुडा
-नौकरीपेशा लोगों के लिए दो साल के ‘नोमैड डिजिटल रेसिडेंस प्रोग्राम’ की शुरुआत की। बेहतरीन इंटरनेट-मोबाइल कनेक्टिविटी, गोताखोरी, गहरे समुद्र में मछली पकड़ने जैसे लुभावने ऑफर भी दे रहा।
-50 हजार डॉलर (लगभग 37.5 लाख रुपये) की सालाना आय का प्रमाण देना होगा वीजा आवेदन में
-1.5 हजार डॉलर (करीब 1.12 लाख रुपये) में सिंगल, 3 हजार डॉलर (लगभग 2.25 लाख रुपये) में फैमिली वीजा मिलेगा

2.बारबाडोस
-12 महीने के ‘वेलकम स्टांप वीजा’ की पेशकश की। आवेदन के लिए पर्टयन विभाग की वेबसाइट पर जन्म प्रमाणपत्र, रोजगार सर्टिफिकेट और पासपोर्ट की प्रति जैसे दस्तावेज अपलोड करने होंगे।
-02 हजार डॉलर (करीब 1.5 लाख रुपये) रखा गया है व्यक्तिगत वीजा का शुल्क
-03 हजार डॉलर (लगभग 2.25 लाख रुपये) में पूरे परिवार का वीजा हासिल होगा

3.एस्टोनिया
-‘नोमाड वीजा योजना’ के तहत 1800 विदेशियों के स्वागत को तैयार। आवेदन के इच्छुक लोगों को कम से कम 3988 डॉलर (लगभग 2.99 लाख रुपये) की मासिक आय होने का प्रमाणपत्र पेश करना होगा। नौकरी से जुड़े सभी सत्यापित दस्तावेजों की प्रति भी सौंपनी पड़ेगी।
-117 डॉलर (लगभग 8777 रुपये) का शुल्क भरना होगा वीजा आवेदन के दौरान

4.बरमुडा
-जुलाई की शुरुआत में नई नागरिकता प्रमाणपत्र नीति लाने की घोषणा की, जिसके तहत 18 साल से अधिक उम्र के छात्र/नौकरीपेशा लोग सालभर बरमुडा में रहते हुए अपनी पढ़ाई या नौकरी कर सकेंगे। हालांकि, उनके पास वैध संस्थान में एडमिशन/नौकरी का प्रमाणपत्र तथा स्वास्थ्य बीमा होना अनिवार्य रहेगा।
-263 डॉलर (लगभग 19725 रुपये) खर्च आएगा नागरिकता प्रमाणपत्र हासिल करने में

5.चेक गणराज्य
-फ्रीलांसर और ‘वर्क फ्रॉम होम’ की सुविधा से लैस विदेशी कर्मचारियों के लिए ‘जीवनो वीजा’ की पेशकश की। अपने देश में स्थित चेक गणराज्य के वाणिज्य दूतावास में जाकर आवेदन करना संभव है। वीजा फॉर्म के साथ आय प्रमाणपत्र, यात्रा बीमा और आवास सर्टिफिकेट उपलब्ध कराना होगा।

6.पुर्तगाल
-सालभर के लिए ‘स्वरोजगार वीजा’ उपलब्ध करा रहा। हालांकि, आवेदक के लिए ऐसे हुनर का प्रदर्शन करना अनिवार्य है, जो पुर्तगाल में रोजगार पाने को जरूरी। वीजा टेस्ट में पास होने के बाद आवेदकों को विभिन्न क्लाइंट से मिलवाया जाएगा। पुर्तगाली बैंक में खाता भी खुलवाया जाएगा।

6.जर्मनी
-फ्रीलांसिंग करने वाले लोग जर्मनी सरकार की वेबसाइट पर जाकर ‘फ्रेबरफलर वीजा’ के लिए आवेदन कर सकते हैं, जो देश में तीन महीने रहकर अपना काम निपटाने की सुविधा देता है। वीजा फॉर्म में आवेदकों को आय, यात्रा बीमा और नियोक्ताओं की मंजूरी से जुड़े दस्तावेज जरूर पेश करने होंगे।

7.मैक्सिको
-‘अस्थाई निवास वीजा’ नौकरीपेशा लोगों को मैक्सिको में सालभर रहने की इजाजत देगा। हालांकि, वे स्थानीय निकायों के साथ काम नहीं कर सकते। आवेदन के लिए 1620 डॉलर (लगभग 1.21 लाख रुपये) की मासिक आय या 27 हजार डॉलर (करीब 20.25 लाख रुपये) बैंक बैलेंस दिखाना जरूरी होगा।

8.जॉर्जिया
-वित्त मंत्रालय ने ‘वर्क फ्रॉम होम’ कर रहे कर्मचारियों के लिए छह महीने या उससे अधिक अ‌वधि का ‘विजिटर प्रोग्राम’ लॉन्च किया। आवेदक के लिए दो हजार डॉलर (लगभग 1.5 लाख रुपये) की मासिक आय दिखाना और स्वास्थ्य बीमा होना अनिवार्य रहेगा। प्रवेश पर 12 दिन क्वारंटाइन होना पड़ेगा।

क्या है मकसद
-कोरोना संक्रमण के चलते महीनों से ठप पड़े पर्यटन उद्योग में जान फूंकने में मदद मिलेगी
-स्थानीय लोगों के रोजगार छीने बगैर ही अर्थव्यवस्था में योगदार दे सकेंगे विदेशी नागरिक

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Covid-19: If you are bored and stressed with work from home then must visit these countries stress will be discharged