DA Image
27 मई, 2020|6:27|IST

अगली स्टोरी

Corona Symptoms:बिना बुखार के जुकाम होना कोरोना वायरस का लक्षण नहीं, ऐसे करें खुद की सुरक्षा

cough and cold

मौसम में अचानक बदलाव होने के कारण सर्दी खांसी होना आम बात है, लेकिन पूरी दुनिया में कोहराम मचा देने वाले कोरोना वायरस के लक्षणों का भी जुखाम की तरह होना सभी के लिए डर की बात बनी हुई है। ऐसे में कोरोना वायरस के लक्षणों के बारे में जानकारी लेना बहुत आवश्यक है। आइए जानते हैं कोरोना वायरस के लक्षणों के बारे में -
 
बुखार-
एम्स के डॉ. अजय मोहन के अनुसार,  कोरोना वायरस के लक्षणों में हल्का बुखार होना भी शामिल है। आमतौर पर जुखाम में बुखार 100 डिग्री तक हो सकता है, लेकिन कोरोना वायरस में बुखार 100 डिग्री से ऊपर तक बढ़ सकता है। यदि बुखार 100 डिग्री से अधिक हो तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।
 
सूखी खांसी आना-
सर्दी-जुकाम में खांसी आते समय कफ निकलता है, लेकिन कोरोना वायरस से ग्रसित मरीज को सूखी खांसी आती है। कोरोना वायरस के लक्षण 5 से 7 दिनों में पता लगते हैं, जिसमें सूखी खांसी के लक्षण महसूस हो सकते हैं।
 
सांस लेने में बहुत तकलीफ होना-
यदि बुखार के साथ सर्दी-खांसी हो रही हो और साथ में सांस लेने में भी तकलीफ महसूस हो रही है तो यह कोरोना वायरस का एक महत्वपूर्ण लक्षण हो सकता है। यदि ऐसे कोई भी लक्षण महसूस हों तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करने से ना हिचकें।
 
सर्दी-जुकाम होना-
कोरोना वायरस के लक्षणों में सर्दी जुखाम भी एक लक्षण है, लेकिन सिर्फ सर्दी-जुकाम ही कोरोना का लक्षण नहीं माना जा सकता है। इसलिए घबराने की जरूरत नही है।
 
कब ज्यादा चिंतित होने की जरूरत है-
यदि आप कहीं बाहर से सफर करके आए हैं या आप किसी बाहर से सफर करके आने वाले व्यक्ति से संपर्क में आए हैं तो यह चिंता की बात हो सकती है। आपको कोरोना वायरस के लक्षण महसूस हो रहे हों तो सबसे पहले खुद को अलग-थलग करने के बाद चेकअप जरूर करवा लेना चाहिए।
 
किन बातों का ध्यान रखें-
-कोरोना वायरस का संक्रमण संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से फैलता है, इसलिए घर से बाहर न निकलें। बाहर जाने पर हर व्यक्ति से 1 मीटर की दूरी बनाकर रखें।
-यदि घर में किसी भी सदस्य को सर्दी जुकाम हो उससे दूरी बनाकर रखें। उसके साथ कोई भी खाने की चीज शेयर ना करें।
-सब्जी खरीदने के बाद सब्जियों को गर्म पानी में एक चम्मच नमक डालकर आधे घंटे के लिए रख दें इससे उन पर लगे सभी विषैले जीवाणु खत्म हो जाते हैं।

एक रिसर्च के अनुसार प्लास्टिक पर कोरोना वायरस का संक्रमण 72 घंटे तक जीवित रह सकता है इसलिए यदि आप बाहर से कोई भी सामान लाते हैं तो अपने साथ एक कपड़े का बैग लेकर ही जाएं ताकि उसमें सामान रख सकें, क्योंकि अक्सर प्लास्टिक बैग में ही सामान दिया जाता है।

वैसे तो इस समय घर से बाहर निकलना खतरे से खाली नहीं है, लेकिन अति आवश्यक कार्य से बाहर जाना पड़े तो मुंह पर तीन लेयर वाला मास्क जरूर लगाएं। जब भी घर में प्रवेश करें तो दरवाजे के हैंडल और डोरबेल को अच्छी तरह से सैनिटाइज कर दें और घर में आने के बाद नहाएं। इससे संक्रमण से बचा जा सकता है। साथ ही पर्स, मोबाइल, घड़ी और गाड़ी की चाबी को भी अच्छी तरह सैनिटाइज कर दें। इन छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखेंगे तो किसी भी प्रकार के संक्रमण से आसानी से बचा जा सकता है।
 
अधिक जानकारी के लिए देखें : http://myupchar.com/disease/covid-19/difference-between-coronavirus-and-covid-19

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Corona Symptoms: Being a fever without a cold is not a symptom of the Corona virus know how to protect yourself from covid 19