DA Image
29 मई, 2020|10:24|IST

अगली स्टोरी

कोरोना : बार-बार चेहरे को छूना दे सकता है वायरस को संक्रमण, 'अनटच बैंड' करेगा बचाव

untouched band

डब्ल्यूएचओ समेत दुनिया के अन्य स्वास्थ्य संगठन बार-बार दोहरा रहे हैं कि इन दिनों चेहरे, आंख, नाक और मुंह को बार-बार छूने से बचें। ऐसा करने से कोरोना का संक्रमण बढ़ने की आशंका है। एक अध्ययन बताता है कि एक इंसान एक घंटे में कम से कम 23 बार अपने चेहरे को छूता है।

अनोखा स्मार्ट बैंड-
देश की कंपनी ने एक ऐसा अनोखा स्मार्ट बैंड तैयार किया है जिससे आपकी चेहरे को बार-बार छूने की आदत छूट जाएगी। ‘अनटच बैंड’ नाम से लॉन्च किए गए इस स्मार्ट बैंड की बात ही अलग है। बाजार में पहले से भी ऐसे बैंड मौजूद हैं। इस बैंड की खूबी यह है कि यह जेस्चर यानी हाव-भाव तकनीक पर काम करता है।

ऐसे करता है काम-
यह आज की आधुनिक तकनीक पर काम करता है। आप जैसे ही अपने मुंह की तरह हाथ ले जाएंगे तो यह डेटा खुद ही सेव हो जाएगा। यानी जब आप दोबारा से इसी प्रक्रिया को दोहराने लगेंगे तो डिवाइस में लगा वाइइब्रेटर ऑन हो जाएगा। वाइब्रेशन से आप अलर्ट हो जाएंगे। इसके अलावा अगर आपको बार-बार दांतों से नाखून चबाने की आदत है तो आप इसका डेटा भी सेव कर इस आदत से भी छुटकारा पा सकते हैं। इस बैंड की सेटिंग के लिए आपको अपने स्मार्टफोन से एक एप डाउनलोड करना होगा। फिलहाल कंपनी अपनी वेबसाइट के जरिए प्री-ऑर्डर ले रही है।

विशेषज्ञयों की राय
मनोचिकित्सकों का कहना है कि सामान्य दिनों में शायद बार-बार चेहरा छूने से कोई दिक्कत हो, लेकिन कोरोना के इस मुश्किल समय में यह आदत जल्द से जल्द छोड़ देनी चाहिए। वहीं मनोवैज्ञानिक कहते हैं कि कोई भी इंसान ऐसा जानबूझकर नहीं करता है। यह आदत उनके डीएनए के कारण होती है। इस आदत को एकदम से छोड़ पाना मुश्किल है लेकिन धीरे-धीरे खुद को रोका जा सकता है।

गंदे हाथ हैं फ्लू की वजह-
-एक सामान्य शख्स एक घंटे में 23 बार चेहरा छूता है अपना
-80 प्रतिशत संक्रामक रोग हाथों के स्पर्श से ही होते हैं
-निमोनिया, सर्दी, फ्लू जैसे 40 प्रतिशत रोग गंदे हाथों के चेहरे तक पहुंचने से होते हैं

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Corona outbreak:Touching face number of times can spread corona virus infection only untouch band can protect you to be get infected from covid 19