फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ लाइफस्टाइलभारत बायोटेक की सलाह, Covaxin लेने के बाद न करें पैरासिटामोल या पेन किलर का इस्तेमाल

भारत बायोटेक की सलाह, Covaxin लेने के बाद न करें पैरासिटामोल या पेन किलर का इस्तेमाल

भारत बायोटेक ने कहा कि कोवैक्सिन लेने के बाद पैरासिटामोल या दर्द निवारक गोली का इस्तेमाल जरूरी नहीं है। कंपनी ने बयान जारी कर कहा कि हमें जानकारी मिली है कि कुछ टीकाकरण केंद्रों पर बच्चों को...

भारत बायोटेक की सलाह, Covaxin लेने के बाद न करें पैरासिटामोल या पेन किलर का इस्तेमाल
Manju Mamgainएजेंसी ,नई दिल्लीThu, 06 Jan 2022 09:55 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/

भारत बायोटेक ने कहा कि कोवैक्सिन लेने के बाद पैरासिटामोल या दर्द निवारक गोली का इस्तेमाल जरूरी नहीं है। कंपनी ने बयान जारी कर कहा कि हमें जानकारी मिली है कि कुछ टीकाकरण केंद्रों पर बच्चों को कोवैक्सीन की डोज देने के बाद पैरासिटामोल के 500 एमजी की तीन गोलियां लेने को कहा जा रहा है। 

कंपनी ने कहा कि हमारी तरफ से कोवैक्सीन का टीका लगने के बाद कोई पैरासिटामोल या दर्द निवारक गोलियां लेने की सलाह नहीं दी जाती है। साथ ही कहा कि कुछ दूसरी कोविड वैक्सीन की डोज के साथ पैरासिटामोल लेने को कहा जा रहा है, लेकिन कोवैक्सीन का टीका लगवाने के बाद ऐसी कोई दवा लेने की सलाह नहीं दी जाती है।

कंपनी ने अपने बयान में यह भी कहा कि वैक्सीन की क्लीनिकल ट्रायल के दौरान 30,000 लोगों में से 10 से 20 फीसदी में साइड इफेक्ट देखने को मिला था। हमने करीब 30,000 लोगों पर क्लीनिकल ट्रायल किया, जिसमें करीब 10 से 20 फीसदी लोगों में साइफ इफेक्ट देखा गया। अधिकतर साइड इफेक्ट के लक्षण हल्के थे, जो एक से दो दिनों में ठीक हो गए और इसके लिए किसी प्रकार की दवा की जरूरत नहीं पड़ी। 

बता दें कि सरकार ने कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रोन के खतरे को देखते हुए 15 से 18 साल के बच्चों के टीकाकरण के लिए कोवैक्सीन के इस्तेमाल को मंजूरी दी है। इस उम्र के बच्चों के लिए टीकाकरण का अभियान तीन जनवरी से शुरू हो गया है।

इसकी दो डोज बच्चों को दी जाएगी। पहले और दूसरे डोज के बीच 28 दिन का अंतर होगा। वहीं, भारत बायोटेक ने बच्चों पर कोवैक्सीन (बीबीवी152) के फेज 2 और फेज-3 के क्लिनिकल ट्रायल के परिणाम भी जारी किए हैं।

epaper