DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   लाइफस्टाइल  ›  नाश्ते में बिस्किट खाने से बेहतर है केला, जानें वेट लॉस में कितना है मददगार  
जीवन शैली

नाश्ते में बिस्किट खाने से बेहतर है केला, जानें वेट लॉस में कितना है मददगार  

लाइव हिन्दुस्तान टीम ,नई दिल्ली Published By: Pratima Jaiswal
Sat, 01 May 2021 11:05 AM
नाश्ते में बिस्किट खाने से बेहतर है केला, जानें वेट लॉस में कितना है मददगार  

केले के बारे में अक्सर कहा जाता है कि इसमें बहुत ज्यादा कैलोरीज होती है. इससे ब्लड शुगर बढ़ता है और इन कारणों से डाइटीशियन इसे नहीं खाते जबकि केला बिस्किट खाने से कहीं ज्यादा बेहतर है क्योंकि बिस्किट में जीरो न्यूट्रिशन होता है। वास्तव में, केले को डायबिटीज में भी खाया जा सकता है लेकिन डायबिटीज के मरीजों को बादाम के साथ केले का सेवन करना चाहिए, जिससे उनका शुगर लेवल कंट्रोल में रह सके। आप कोई भी स्पोर्ट क्यों न खेलते हो, केला आपके लिए फायदेमंद है। खास तौर पर ट्रेनिंग के दौरान जब स्टेमिना और ताकत की जरूरत होती है, तो केला आपके लिए किसी वरदान से कम नहीं है। इसमें मौजूद फाइबर में ग्लाइसेमिक इंडेक्स की कम मात्रा, आपकी रक्त कोशिकाओ और मांसपेशियों में शर्करा को धीरे-धीरे रिलीज करके आपको पूरे दिन ऊर्जावान बनाए रखती है। 

 

केले में होती है बस 80 कैलोरीज
आपको यह जानकर हैरानी होगी कि केले में बस 80 कैलोरीज होती है। तो, वजन कम करने के लिहाज से यह फल कोई ‘खलनायक’ नहीं है। 

 

केले को इस तरह से करें डाइट में शामिल- 
बनाना मिल्कशेक
केले का मिल्कशेक जिसमें बादाम के दूध का इस्तेमाल किया गया हो। जमे हुए केले का स्वाद ताजे केले से कहीं ज्यादा अच्छा होता है इसलिए ज्यादा पके हुए केले को फ्रिज में रखकर इसे ब्लेंड करके इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। 

 

बनाना डार्क चॉकलेट डेजर्ट 
यह खाने में मीठा हो सकता है लेकिन फिर भी सेहत के लिहाज से बहुत अच्छा है। आप इसमें पिघली हुई डार्क चॉकलेट मिलाकर आइसक्रीम के साथ खा सकते हैं। 
आप केले के साथ मोटे अनाज मिलाकर भी खा सकते हैं। ताजे दूध में अलसी के बीज, चिरौंजी  और एक चम्मच पीनट बटर डालकर भी खा सकते हैं। 

 

यह भी पढ़ें : कच्‍चे लहसुन से लेकर शतावरी तक, जानिए आपके लिए क्‍यों जरूरी हैं प्रीबायोटिक्‍स का सेवन

 

संबंधित खबरें