DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   लाइफस्टाइल  ›  खुद नहीं पता चलती अपनी सांसों की बदबू, दूसरा टोके इससे पहले ऐसे करें दूर

जीवन शैलीखुद नहीं पता चलती अपनी सांसों की बदबू, दूसरा टोके इससे पहले ऐसे करें दूर

टीम लाइव हिंदुस्तान,नई दिल्लीPublished By: Kajal Sharma
Tue, 11 May 2021 01:17 PM
खुद नहीं पता चलती अपनी सांसों की बदबू, दूसरा टोके इससे पहले ऐसे करें दूर

ज्यादातर लोगों को इस बात का अहसास नहीं होता कि उन्हें सांस की बदबू की समस्या है, जब तक कि उन्हें कोई टोक नहीं देता। किसी के सामने शर्मिंदगी उठानी पड़े बेहतर है खुद ही चेक कर लें। सांसों से बदबू की मुक्य वजह मसूड़े या जीभ होती है। यहां आप सांस की बदबू के कारण और उनको दूर करने के कुछ उपाय जान सकते हैं। 


ओरल हाइजीन का रखें ध्यान

अगर आप ओरल हाइजीन का ध्यान नहीं रखते तो आपको सांस की बदबू की समस्या हो सकती है। अगर आप नियमित रूप से ब्रश नहीं करते तो बैक्टीरिया आपके मसूड़ों और जीभ पर इकट्ठे होने लगते हैं। आप जो भी खाते हैं बैक्टीरियाज को इनसे भोजन मिलता है फिर ये गैस रिलीज करते हैं। इनसे सांसों में बदबू पैदा हो सकती है।


मुंह ना सूखने दें, खूब पिएं पानी

आपके मुंह में बनने वाली लार प्राकृतिक माउथवॉश का काम करती है। इसमें एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं। ये बदबू पैदा करने वाले बैक्टीरिया को मारते हैं। अगर आप पानी कम पीते हैं तो आपकी लार कम बनती है और मुंह सूखता रहता है। ऐसे में सांसों में बदबू की समस्या हो सकती है।


कुछ फूड्स हो सकते हैं वजह

प्याज और लहसुन खाने से आपके मुंह में सल्फर बन सकता है, इससे सांसों में बदबू पैदा होती है। इनको खाने के बाद ब्रश करने से भी फर्क नहीं पड़ता। बेहतर होगा आप किसी से मिलने जाएं या ऑफिस में हों तो लहसुन या कच्चा प्याज ना खाएं। 


बीमारियां भी हो सकती हैं वजह

कई बार कब्ज, डायबिटीज, लिवर की बीमारी या ब्रॉन्काइटिस की वजह से सांसों में बदबू आ सकती है। किसी तरह के बैक्टीरियल या वायरल इन्फेक्शन पर टॉन्सिल्स की समस्या होने पर भी आपके मुंह से बदबू आती है।


ऐसे चेक करें सांस की बदबू

अपने मुंह के पास हाथ रखकर फूंकें, आपको काफी हद तक आइडिया लग जाएगा कि आपको सांस की बदबू की समस्या है या नहीं। इसके अलावा आप और श्योर होना चाहते हैं तो अपने डेंटल फ्लॉस को यूज करने के बाद उसकी स्मेल चेक करके देख सकते हैं।

अपनाएं ये तरीके

ढेर सारा पानी पिएं। मुंह को ना सूखने दें। चाहे तो शुगर-फ्री च्यूइंगम चबा सकते हैं। ताजे फल मुंह से बैक्टीरिया दूर करते हैं। ये आपके लिए नैचुरल क्लींजर की तरह काम करते हैं। ब्रश करते वक्त अपनी जीभ जरूर साफ करें। फ्लॉसिंग के साथ माउथवॉश से गर्गल भी रूटीन में शामिल करें।

संबंधित खबरें