DA Image
28 फरवरी, 2021|2:30|IST

अगली स्टोरी

थायराइड ही नहीं मोटापा भी रखता है कंट्रोल अलसी का काढ़ा, जानें क्या है बनाने का सही तरीका

alsi  ka kada

Ayurvedic Weight Loss Kada Recipe: अलसी के छोटे- छोटे बीजों में सेहत से जुड़े कई बड़े राज छुपे हुए हैं। अलसी में मौजूद विटामिंस, मिनरल्स, फाइबर, ओमेगा 3 फैटी एसिड आदि जैसे पौषक तत्व व्यक्ति को कई रोगों से दूर रखने में मदद करते हैं। अलसी का काढ़ा पीने से व्यक्ति को खांसी, जुकाम, सर्दी, पेट दर्द, पेट में मरोड़ जैसी समस्याओं से भी छुटकारा मिलता है। इतना ही नहीं आप इस सेहतमंद काढ़े को पीने से अपनी  थायराइड को कंट्रोल करके मोटापा जैसी समस्या से भी निजात पा सकते हैं। आइए जानते हैं कैसे बनाया जाता है ये काढ़ा।  

ऐसे करें अलसी का काढ़ा तैयार-

अलसी का काढ़ा बनाने के लिए सबसे पहले दो चम्मच अलसी के बीजों को दो कप पानी में मिक्स करके पानी को आधा रह जाने तक उबाल लें। आपका अलसी का काढ़ा बनकर तैयार है। काढ़े को छानकर उसे थोड़ा ठंडा होने पर पिएं। 

यह भी पढ़ें - खाना पकाने के लिए फायदेमंद है मूंगफली का तेल, एक्सपर्ट से जानें मूंगफली के तेल के 8 फायदे 

अलसी का काढ़ा पीने के फायदे
-मोटापा कम करने में भी मददगार-

शरीर में जमी अतिरिक्त चर्बी पिघलाने में भी यह काढ़ा आपकी मदद कर सकता है। यदि आपका वजन अधिक है, तो आप इस काढ़े का सेवन जरूर करें। अलसी में मौजूद फाइबर भूख को कम करके शरीर को ऊर्जा प्रदान करने का काम करता है। 

-ब्लड शुगर रहता है कंट्रोल- 
डायबिटीज की समस्या से पीड़ित लोगों के लिए अलसी का काढ़ा किसी वरदान से कम नहीं है। नियमित रूप से सुबह खाली पेट असली का काढा पीने से डायबिटीज का स्तर नियंत्रित रहता है।


थायराइड में असरदार- 
सुबह खाली पेट अलसी का एक कप काढ़ा पीने से हाइपोथाइरॉएड और हाइपरथाइरॉएड दोनों स्थितियों में फायदा मिलता है। 

जोड़ों के दर्द में दे आराम-
साइटिका, नस का दबना, घुटनों जैसे जोड़ों के दर्द में अलसी के काढ़े का नियमित सेवन फायदेमंद है।


हार्ट ब्लॉकेज को रखता है दूर- 
नियमित रूप से 3 माह तक अलसी का काढ़ा पीने से आर्टरी ब्लॉकेज की समस्या भी दूर होती है। अलसी में मौजूद ओमेगा-3 शरीर में मौजूद खराब कोलेस्ट्रॉल एलडीएल के स्तर को भी कम करने का काम करता है। 

पेट की समस्याओं में कारगर- 
नियमित रूप से अलसी का काढ़ा पीने से कब्ज, पेट दर्द, पेट अफरना जैसी समस्याओं से छुटकारा मिलता है।


बालों और त्वचा के लिए फायदेमंद-
आधा चम्मच अलसी के बीज रोज सुबह गर्म पानी के साथ लेने से बालों के झड़ने की समस्या भी हल होती है। तीन-चार महीने तक नियमित रूप से काढ़ा पीने से बाल सफेद होना रुक जाता है। 

यह भी पढ़ें - क्‍या आहार में से नमक हटाने का प्‍लान बना रहीं हैं, तो पहले इसके साइड इफेक्ट भी जान लें 

 

 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:ayurvedic weight loss kada recipe: Not only thyroid but obesity can also be controlled with flaxseed kada or Alsi ka kada know the amazing health benefits of drinking alsi ka kada with its right recipe