DA Image
3 मार्च, 2021|4:28|IST

अगली स्टोरी

अमृतसर साहित्य उत्सव 24 फरवरी से शुरू, जानें तीन दिवसीय कार्यक्रम में क्या-क्या है खास

books

संस्था नाद प्रगासु की तरफ से विद्यार्थियों और शोधकतार्ओं को साहित्य और चिंतन के साथ जोड़ने के उद्देश्य से प्रेरित छठा अमृतसर साहित्य उत्सव -2021, 24, 25 और 26 फरवरी को खालसा कालेज फॉर वीमन में आयोजित किया जा रहा है। संस्था के सचिव वरिन्दरपाल सिंह ने मंगलवार को बताया कि इस बार अमृतसर साहित्य उत्सव दौरान सेमिनार, बसंत राग गान, 12वां सालाना चढ़ा बसंत' कवि दरबार, विचार चर्चा और फिल्म पेशकारी प्रमुख समागम होंगे। इसके इलावा कई लेखकों की पुस्तकें भी रिलीज की जा रही हैं। 
प्रबंधकों ने बताया कि पहले दिन उद्घाटन समारोह के इलावा 'पंजाबी समाज में किसानी: रिश्ते और संकट' विषय पर संवाद का आयोजन किया जाएगा। दूसरे दिन सेमीनार में अकादमिक खोज क्षेत्र के प्रमुख शिक्षा शास्त्रीय और विचार चर्चा में पंजाबी साहित्य के प्रमुख कवि अपनी काव्य -सृजन के अलग-अलग पक्ष पाठकों के साथ सांझा करेंगे। इसी दिन शाम को हाशियागत वर्ग की सामाजिक और आर्थिक समस्याएं को पेश करती फिल्म 'चमड़ा ' की पेशकारी की जाएगी।
तीसरे दिन के समागमों का आरंभ बसंत राग गान के साथ किया जाएगा और इसके उपरांत पंजाबी के प्रमुख 18 कवियों के अलावा पंजाबी की उप-बोलियों पहाड़ी और गोजरी के कवि भी अपनी, रचनाएं पेश करेंगे। इस बार नाद प्रगासु शब्द सम्मान के साथ पंजाबी की प्रसिद्ध कवयित्री मनजीत इंद्रा को सम्मानित किया जाएगा। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Amritsar Sahitya Utsav begins from February 24