Sunday, January 23, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ लाइफस्टाइलट्रेन से ट्रेवल करना है पसंद, इन 5 रूट पर देखने को मिलेंगे खूबसूरत नजारे

ट्रेन से ट्रेवल करना है पसंद, इन 5 रूट पर देखने को मिलेंगे खूबसूरत नजारे

टीम लाइव हिंदुस्तान,नई दिल्लीAvantika Jain
Mon, 06 Dec 2021 03:14 PM
ट्रेन से ट्रेवल करना है पसंद, इन 5 रूट पर देखने को मिलेंगे खूबसूरत नजारे

इस खबर को सुनें

बचपन में ट्रेन में बैठ कर दादी-नानी के घर जाना, या फिर गर्मियों की छुट्टी में किसी जगह पर घूमने जाने की बाच हो ट्रेन का जो सफर होता है, वह बेहद ही खास होता है। वैसे तो इन दिनों फ्लाइट्स टिकट काफी सस्ते हो गए हैं और ऐसे में बहुत कम लोग हैं  जो अब ट्रेन में ट्रेवल करते हैं। लेकिन कुछ ऐसे रास्ते हैं जहां पर आपको एक बार जरूर ट्रेवल करना चाहिए। जी हां, भारत में कुछ ऐसी जगह हैं जो इतनी सुंदर हैं कि केवल एक ट्रेन यात्रा ही उन नजारों के साथ जस्टिस कर सकती है। तो जानते हैं कुछ ऐसे ट्रेन रूट के बारे में-

1) पठानकोट-जोगिन्दर नगर

कांगड़ा घाटी रेलवे द्वारा लिया गया यह रूट सबसे कम जाना जाने वाले रूट में से एक है। यह 1929 में बनाया गया था और पहाड़ों, इलाकों और जंगलों से होकर गुजरता है। यह रेल मार्ग धौलाधार पहाड़ों की श्रृंखला का नजारा दिखाता है और वह नजारे शब्दों से परे है। बर्फ से ढके पहाड़, पेड़, घना कोहरा खूबसूरत नजारे देखने को मिलेंगे। 

2) हुबली-मडगांव

अगर आप जल्द ट्रेवल की प्लानिंग बना रहे हैं तो आपको वास्को डी गामा रूट नामक इस रूट को कम से कम एक बार आपको जरूर देखें। यह ट्रेन दूधसागर वॉटरफॉल के सामने चलती है, जो अपने यात्रियों को एक ऐसा नजारा दिखाती है जो बेहद खूबसूरत है। जब आप अपनी ट्रेन की सीट पर बैठते हैं और सबसे मंत्रमुग्ध कर देने वाले नजारे का आनंद लेते हैं, तो आपके ठीक सामने दूध के समान सफेद झरने पूरी ताकत से बहते हैं। यह रास्ता आपको मदहोश कर देगा।

3) जैसलमेर-जोधपुर

अगर आप राजस्थान ट्रेवल पर हैं तो जैसलमेर से जोधपुर पहुंचने के लिए ट्रेन लें। ट्रेन दिल्ली जैसलमेर एक्सप्रेस है और छह घंटे के इस विशेष रूट को 'डेजर्ट क्वीन' कहा जाता है। यहां आपको रेत के टीले, ऊंट, पीली मिट्टी के खूबसूरत नजारे देखने को मिलते हैं। यह ट्रेन रूट किसी डेजर्ट सफारी से कम नहीं लगेगा।

4) मंडपम- रामेश्वरम

यह रूट काफी ज्यादा थ्रिलिंग है क्योंकि ट्रेन पाक स्ट्रेट के ऊपर से गुजरती है जो भारत का दूसरा सबसे बड़ा पुल है। ट्रेन नीले समुद्र के पानी के ऊपर से जाती है जो आपको शांति का एहसास कराती है। हालांकि ये रूट एक घंटे का ही है, आप इसकी सुंदरता को देखते ही खो जाएंगे। 

5) सकलेशपुर-सुब्रमण्य

यह रेल रूट प्राकृतिक आई कैंडीज का एक पूरा पैकेज है। हरे भरे जंगल, पहाड़ी इलाके, खूबसूरत चट्टानें, कॉफी के बागान, झरने, पहाड़, पुल, इस रूट में है। इस रूट पर ट्रेन से सफर करना जिंदगी भर का अनुभव बनाने वाला है। 

 

epaper

संबंधित खबरें