फोटो गैलरी

Hindi News लाइफस्टाइल रिलेशनशिपBreakup Day 2024 Quotes: इन ब्रेकअप कोट्स से बयां करें दर्द, बात कहने के लिए ये मैसेज बनेंगे जरिया

Breakup Day 2024 Quotes: इन ब्रेकअप कोट्स से बयां करें दर्द, बात कहने के लिए ये मैसेज बनेंगे जरिया

Breakup Day 2024 Quotes Message In Hindi: 21 फरवरी को ब्रेकअप डे होता है। किसी भी टॉक्सिक रिश्ते से निकलने के लिए ये दिन सही है। रिश्ता खत्म करने के लिए आप पार्टनर को ये मैसेज भेज सकते हैं।

Breakup Day 2024 Quotes: इन ब्रेकअप कोट्स से बयां करें दर्द, बात कहने के लिए ये मैसेज बनेंगे जरिया
Avantika Jainलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 21 Feb 2024 08:44 AM
ऐप पर पढ़ें

आज यानी 21 फरवरी को एंटी-वैलेंटाइन वीक का आखिरी दिन है। इस हफ्ते के आखिरी दिन पर ब्रेकअप डे मनाया जाता है। इस दिन जो कपल्स अपने रिश्ते से संतुष्ट नहीं हैं, वे अलग होने का फैसला करते हैं। किसी भी रिश्ते से अपने जुड़ाव को खत्म करना आसान नहीं होता। ऐसे में इस दिन आप ब्रेकअप डे मैसेज भेजकर भी पार्टनर के साथ रिश्ते को खत्म कर सकते हैं। यहां देखिए ब्रेकअप डे के लिए कोट्स- 

एक दिन तुझे भी मिलेगा तेरे जैसा,
तब तुझे एहसास होगा के,
दिल का दर्द क्या होता है।

मिले तो हजारों लोग थे जिंदगी में,
पर वो सबसे अलग था, जो किस्मत में नहीं था।

बड़े सुकून से वो रहती है, आज कल मेरे बिना।
जैसे किसी उलझन से छुटकारा, मिल गया हो उसे।

आईना हमारा सबसे गहरा दोस्त होता है,
क्योंकि जब हम रोते हैं तो यह कभी नहीं हंसता।

दरिया की देहलीज पर बैठी सोच रही है ये आंखें।
कितना वक्त लगेगा आखिर
सारे ख्वाब बहने में।

अपनी मोहोब्बत पर इस कदर यकीन है,
मुझे की जो मेरा हो गया वो,
फिर किसी और का हो नहीं सकता।

दिल गुमसुम, जुबान खामोश,
ये आंखे आज नम क्यों है,
जो कभी अपनी हुई ही नहीं,
उसे खोने का गम क्यों है।

मेरी पागल सी मोहब्बत तुम्हे,
उस वक़्त बहुत याद आएगी,
जब तुम्हे हंसाने वाले कम,
और रुलाने वाले ज्यादा मिलेंगे।

अगर कोई इंसान बेपनाह मोहब्बत कर सकता है,
तो नफरत भी कर सकता है क्योंकि,
जब एक खुबसूरत आईना टूटता है,
तो वह एक हथियार बन जाता है।

वो पत्थर कहा मिलता है,
बताना जरा ए दोस्त,
जिसे लोग दिल पर रखकर,
एक दूसरे को भूल जाते है।

वो रो रो कर कहती रही मुझे नफरत है तुमसे,
मगर एक सवाल आज भी परेशान किए हुए है की,
इतनी ही नफरत थी तो वो इतना रोई क्यों।

तरसते थे जो हमसे मिलने को कभी,
न जाने क्यों आज,
मेरे साये से भी वो कतराते है,
हम भी वही है दिल भी वही है,
न जाने क्यों आज लोग बदल गए है।

वो किसी के खातिर हमे,
भूल भी जाये तो कोई बात नहीं,
हम भी तो भूल गए थे,
सारा जहां उनके खातिर।

मैं अपनी तारीफ तो खुद ही करता हूं,
क्योंकि मेरी बुराई के लिए तो
पूरा जमाना तैयार बैठा है।

मत कर इतनी मोहब्बत ए दिल,
प्यार का दर्द सह ना पायेगा,
टूट जायेगा एक दिन अपनों के हाथ से,
किसने तोड़ा ये भी किसी से कह ना पायेगा।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें