फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News लाइफस्टाइल पेरेंट्स गाइडबच्चे में शांत स्वभाव चाहते हैं तो पालन पोषण करते समय ध्यान रखें ये बातें, लाइफ को हमेशा करेगा एंजॉय

बच्चे में शांत स्वभाव चाहते हैं तो पालन पोषण करते समय ध्यान रखें ये बातें, लाइफ को हमेशा करेगा एंजॉय

Tips To Raise a Calm Child: हर कोई शांत स्वभाव वाले बच्चे की चाहत रखता है। ऐसे में बेबी का पालन पोषण करते समय पेरेंट्स को कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। जानिए क्या हैं वह बातें-

बच्चे में शांत स्वभाव चाहते हैं तो पालन पोषण करते समय ध्यान रखें ये बातें, लाइफ को हमेशा करेगा एंजॉय
Avantika Jainलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSun, 19 May 2024 01:23 PM
ऐप पर पढ़ें

चंचल बच्चे हर किसी को अच्चे लगते हैं। लेकिन कई बार बच्चों की चंचलता बद्तमिजी और शैतानियों में बदल जाती है, जो कई बार शर्मिंदगी का कारण बनती है। वहीं कभी-कभी बच्चों का नखरा संभालना मुश्किल हो जाता है। कई बार उनका नखरा जिद बन जाता है। हालांकि, कुछ पेरेंट्स चाहते हैं कि उनके बच्चे शांत हों और अपनी लाइफ को एंजॉय करें। ऐसे में पेरेंट्स को बच्चों का पालन पोषण करने के लिए कुछ बातों को ध्यान में रखना जरूरी है।

-बच्चों को अपने काम और छोटे फैसले जैसे क्या पहनना है, कैसे खाना है वगैराह जैसे निर्णय खुद लेने दें। यह आत्मविश्वास और आत्म-सम्मान के साथ-साथ प्रेरणा और दृढ़ता को बढ़ावा देता है। यह आत्मनिर्भरता को बढ़ावा देता है।

-बच्चों को नेचर लवर बनाने के लिए उन्हें पार्क, समुद्र किनारे या फिर पहाड़ों पर घुमाने के लिए लेकर जाएं। यहां पर उन्हें खेलने दें और खुद ही एक्सप्लोर करने दें।

-रिपोर्ट्स कहती हैं कि ज्यादातर चिड़चिड़े बच्चों के माता-पिता चिड़चिड़े होते हैं। एक शांत और खुश बच्चे को बड़ा करने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप स्वयं शांत रहें।

-बाल योग से लेकर बच्चों के लिए ध्यान तक, ऐसी चीजों को करने के लिए प्रोत्साहित करें जो बच्चों को भावनाओं को प्रबंधित करने में मदद करेंगी। इस तरह की एक्टिविटी बच्चों के साथ करें, ताकी आप और आपका बच्चा शांत रहे।

-रिपोर्ट्स की मानें तो अगर बच्चे लगातार यह नहीं सीखते हैं कि अपने लिए काम कैसे करें और जिम्मेदार कैसे बनें तो तनावग्रस्त हो सकते हैं। जब भी बच्चे कुछ सीख जाएं तो उसकी जिम्मेदारी बच्चों को दे देनी चाहिए, फिर चाहें ये अलार्म सेट करने का ही काम क्यों न हो।

बच्चों की ग्रोथ के लिए सॉलिड फूड है जरूरी, जानिए कब खिलाना करें शुरू

डिस्क्लेमर: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीकों व दावों को केवल सुझाव के रूप में लें। इस तरह के किसी भी उपचार/दवा/डाइट और सुझाव पर अमल करने से पहले डॉक्टर या एक्सपर्ट से सलाह लें।