फोटो गैलरी

Hindi News लाइफस्टाइल पेरेंट्स गाइडबच्चे का माइंड शार्प बनाना है तो उन्हें इस तरह सोचना सिखाएं

बच्चे का माइंड शार्प बनाना है तो उन्हें इस तरह सोचना सिखाएं

Parenting Guide: बच्चे को हर फील्ड में आगे रखना है तो केवल पढ़ाई पर फोकस करने की बजाय उसे इस तरह से सोचना और समझना सिखाएं। जिससे बच्चे का माइंड शार्प बनेगा और वो चीजों को ज्यादा अच्छे से समझेगा।

बच्चे का माइंड शार्प बनाना है तो उन्हें इस तरह सोचना सिखाएं
Aparajitaलाइव हिंदुस्तान,नई दिल्लीSat, 28 Oct 2023 01:33 PM
ऐप पर पढ़ें

बच्चों का पहला स्कूल घर होता है। जहां से वो चीजों को सीखना शुरू करता है। फिर वो चाहे पढ़ाई-लिखाई हो या फिर मैनर। बच्चे में ग्रोथ केवल स्कूल के सेलेबस से नहीं हो सकती। इसके लिए उसे सही तरीके से सोचना सिखाना जरूरी है। अगर आपको लगता है कि आपके बच्चे का माइंड शार्प नही है और वो चीजों को देर से सीखता-समझता है। तो उसके अंदर सोचने के लिए इन चीजों को डेवलप करें। ये तरीके बच्चे के माइंड को शार्प बनाएंगी और वो चीजों को ज्यादा अच्छे तरीके से समझेगा।

बच्चे को सवाल पूछने के लिए प्रेरित करें
बच्चे के माइंड को बचपन से ही शार्प बनाना चाहते हैं तो उन्हें पढ़ते वक्त सवाल पूछने के लिए प्रेरित करें। इससे बच्चों को चीजों को गहराई से समझने की इच्छा पैदा होगी और वो ज्यादा से ज्यादा उस बारे में सोचेंगे। बच्चों के सवाल पूछने की आदत बड़े होने पर भी उनकी ग्रोथ और समझ को और अच्छे से डेवलप करेगी। 

बच्चों को व्यवहारिक ज्ञान जरूर दें
बच्चे के माइंड को शार्प बनाना है तो उन्हें व्यवहारिक ज्ञान जरूर दें। आसपास की चीजों और घटनाओं के बारे में बताएं और जागरुक करें। बड़े होते बच्चों को इस तरह का ज्ञान देने से वो सोशल होते हैं और हर टॉपिक पर गहराई से सोचते हैं। जिससे उनकी सोशल स्किल भी डेवलप होती है और वो माइंड भी शार्प होता है। 

बच्चों को ग्रुप में पढ़ाएं
बच्चों के माइंड को शार्प बनाना है तो उन्हें ग्रुप में पढ़ाएं, सिखाएं और वर्क पूरा करने के लिए कहें। इससे बच्चे को कॉम्पिटिशन महसूस होगा और वो ज्यादा अच्छे से अपने काम और प्रोजेक्ट को पूरा करेंगे। साथ में सीखने से बच्चों का माइंड शार्प होता है। 

बच्चों के स्टडी में नंबर्स के साथ सीखने पर फोकस करें
बच्चे को शार्प माइंड और भविष्य में सक्सेजफुल बनाना है तो क्लास में उसके नंबरों से ज्यादा सीखने पर फोकस करें। बच्चे ने कितना सीखा और समझा इस बात पर फोकस करें। इससे बच्चे का माइंड शार्प होगा और वो चीजों को ज्यादा गहराई से सीखेगा और समझेगा।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें