फोटो गैलरी

Hindi News लाइफस्टाइल पेरेंट्स गाइडBaby Winter Care: नवजात शिशु को सर्दी के कपड़े पहनाते समय रखें इन बातों का ध्यान, नहीं लगेगी ठंड

Baby Winter Care: नवजात शिशु को सर्दी के कपड़े पहनाते समय रखें इन बातों का ध्यान, नहीं लगेगी ठंड

How to warm baby in winter: छोटे बच्चों को ठंड से सुरक्षित रखना है तो केवल ऊनी कपड़े पहना देना काफी नही है। बल्कि ऊनी कपड़े पहनाते वक्त इन बातों का ध्यान रखना भी जरूरी है। जिससे बच्चे ठंड से बचें।

Baby Winter Care: नवजात शिशु को सर्दी के कपड़े पहनाते समय रखें इन बातों का ध्यान, नहीं लगेगी ठंड
Aparajitaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 01 Dec 2023 03:39 PM
ऐप पर पढ़ें

ठंड का मौसम सेहत के लिए अच्छा नहीं होता। इस वक्त शरीर को सर्द हवाओं से बचाना बेहद जरूरी होता है। खासतौर पर बच्चों की इस वक्त पर अतिरिक्त देखभाल करनी चाहिए। जो बच्चे ठंड के मौसम में पैदा होते हैं या जिन बच्चों की पहली ठंड है उन्हें केवल गर्म कपड़े पहना देने से काम नहीं चलता। मां को ये देखना जरूरी है कि गर्म कपड़ों से ठंड रुक रही है या नहीं। या फिर बच्चे की स्किन में रैशेज तो नहीं हो रहे। इसलिए नवजात शिशु को कपड़े पहनाते समय इन बातों का ध्यान जरूर रखें। जिससे कि बच्चे की स्किन सुरक्षित रहे और बच्चे को ठंड भी ना लगे।

कैसे पहनाएं बच्चों को गर्म कपड़े
छोटे बच्चे बोलकर तो अपनी ठंडक के बारे में बता नहीं सकते। इसलिए उन्हें ठंड से पूरी तरह बचाने के लिए कपड़ों को कई परत में पहनाएं। एक मोटा ऊनी कपड़ा पहनाने की बजाय छोटे बच्चे को कई परत में ऊनी कपड़ें पहनाएं। जिससे कि बच्चा ठंड से बच सके।

कितनी लेयर होनी चाहिए बच्चों के शरीर पर
बच्चे को बहुत ज्यादा गर्म कपड़े पहना देने से वो गर्मी से भी बेहाल हो सकते हैं और उन्हें पसीना हो सकता है। जिससे सर्दी-गर्मी होने का डर रहता है। बच्चों के शरीर का तापमान मेंटेन करना है तो उन्हें मां के पहनें कपड़ों से एक कपड़ा ज्यादा पहनाना चाहिए। जिससे कि वो पूरी तरह से गर्म रहें और ठंड ना लगें।

कैसे जानें कि बच्चे को लग रही है ठंड
छोटे बच्चे बोलकर अपनी ठंडक नहीं बता सकते। इसलिए बच्चे ही हथेली और पांव के पंजों को छूएं। अगर ये दोनों बच्चे के पेट से ज्यादा ठंडे हैं तो इसका मतलब है कि बच्चे को ठंडी लग रही है। 

डायरेक्ट स्किन पर ना हो ऊनी कपड़ा
बच्चे की डायरेक्ट स्किन पर ऊनी कपड़ा ना डालें। बल्कि सबसे पहले कॉटन का पतला कपड़ा पहनाने के बाद ही उसे ऊनी कपड़ा पहनाएं। कई बार बच्चों को स्किन पर रैशेज हो जाते हैं। वहीं ऊनी कपड़ों की वजह से पसीना ज्यादा होने से बच्चे को ठंड लगने का भी खतरा रहता है। 
तो बच्चे को सर्दी में कपड़े पहनाते वक्त इन 4 बातों का ध्यान रखकर उन्हें पूरी तरह सुरक्षित रख सकते हैं। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें