फोटो गैलरी

Hindi News लाइफस्टाइल पेरेंट्स गाइडक्या 4 महीने के बच्चे को दे सकते हैं सॉलिड डायट? जानिए क्या कहती हैं एक्सपर्ट

क्या 4 महीने के बच्चे को दे सकते हैं सॉलिड डायट? जानिए क्या कहती हैं एक्सपर्ट

दादी-नानी से अक्सर आपने ये बात सुनी होगी की बड़े होते बच्चे को ठोस आहार देना शुरू कर देना चाहिए। कुछ का मानना है कि 4 महीने के बच्चे को ठोस डायट देना शुरू कर देना चाहिए। एक्सपर्ट से जानिए क्या ये सही।

क्या 4 महीने के बच्चे को दे सकते हैं सॉलिड डायट? जानिए क्या कहती हैं एक्सपर्ट
Avantika Jainलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 23 Feb 2024 01:25 PM
ऐप पर पढ़ें

मां का दूध छुड़ाने के बाद बेबी को सॉलिड फूड देना शुरू कर दिया जाता है। इस सॉलिड फूड में बच्चे को सब्जियों और फलों की प्यूरी दी जाती हैं, या फिर कुछ लोग तो दाल और रोटी को अच्छी तरह से मैश करके खिलाते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि बच्चों को किस समय से ठोस डायट देनी शुरू करनी चाहिए? इस मामले में अगर आप दादी नानी से पूछेंगी तो वह कहेंगी की बच्चों को 4 महीने का हो जाने पर ठोस डायट दी जा सकती है। हालांकि, एक्सपर्ट की राय कुछ और है। जानिए क्या कहती हैं एक्सपर्ट-

क्या कहती हैं एक्सपर्ट? 
एक्सपर्ट का कहना है कि जब बच्चे मुंह में हाथ देने लगते हैं तो पेरेंट्स उन्हें सॉलिड डायट देना शुरू कर देते हैं। लेकिन ये सही नहीं है। 4 महीने के बच्चों की आंतों में खाने को पचाने वाले एंजाइम नहीं होते हैं। इसलिए 6 महीने तक बच्चे को मां का दूध देना चाहिए ताकी उसकी आंते सुरक्षित रहें। ऐसा करने पर बच्चे की इम्यूनिटी बेहतर होती है। वहीं एक्सपर्ट का कहना है कि पुराने समय के मुताबिक आजकल की माताओं का न्यूट्रीशियन काफी अच्छा होता है, तो बच्चे को भी छह महीने तक न्यूट्रीशियन अच्छे से मिलता है।  

क्या कहती है WHO की गाइडलाइन्स 
डब्ल्यूएचओ की गाइंडलाइन्स में ये बात साफ कही गई है कि 6 महीने तक बच्चे को सिर्फ मां का दूध दिया जाना चाहिए। वहीं 6 महीने बाद ही ठोस डायट दी जानी चाहिए। इसके अलावा बच्चे को 2 साल की उम्र तक मां दूध पिलाएं।

4 महीने के होने पर बच्चे क्यों खाते हैं हाथ 
एक्सपर्ट बताती हैं कि जो बच्चे 4 महीने के होने पर अपने मुंह में हाथ देते हैं वह ऐसा भूख से नहीं करते। बल्कि इसे 'माउदिंग' कहा जाता है। ऐसा करके बच्चा अपने मुंह को तैयार करता है सॉलिड खाने के लिए।

न्‍यूबॉर्न बेबी के बारे में मां को भी पता नहीं होती ये दिलचस्‍प बातें, क्या आप जानती हैं?

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें