गुस्सा होने के बाद चीखना-चिल्लाना शुरू कर देता है बच्चा, जानिए इस हरकत से कैसे निपटें

  • How To Deal With Child Screaming: कुछ बच्चे बिना कुछ सोचे समझे चीखना-चिल्लाना शुरू कर देते हैं। बच्चे के इस व्यवहार से पेरेंट्स को दिक्कत हो सकती है। ऐसे में यहां जानिए बच्चे के इस व्यवहार से कैसे निपटें।

Avantika Jain लाइव हिन्दुस्तान, नई दिल्लीSun, 9 June 2024 08:58 PM
हमें फॉलो करें

हो सकता है कि आपका बच्चा स्कूल और बाकी प्रतियोगिता में अव्वल हो, लेकिन उसकी कुछ आदतें हर किसी को परेशान कर सकती हैं। जब बच्चे छोटे होते हैं तो अपनी भावनाएं मां-बाप तक नहीं पहुंचाने में असमर्थ होते हैं। ऐसे में वह कुछ ऐसी हरकतें करते हैं जिससे पेरेंट्स का ध्यान अपनी ओर खींच सकें। वहीं कई बार अपनी बात मनवाने या फिर गुस्से में वह चीखना-चिल्लाना शुरू कर देते हैं। वहीं बच्चों का ऐसा व्यवहार माता-पिता को परेशान कर सकता है। अगर आपका बच्चा भी ऐसी हरकत करता है तो आपको कुछ तरीकों को अपनाकर इससे निपटना चाहिए।

अपनी आवाज रखें कम

अपने चिल्लाते हुए बच्चे के सामने अगर आप तेजी से चिल्लाते हैं तो वह आपसे ही सीखकर जोर से चिल्लाते हैं। बच्चे की आंखों में देखकर उससे बात करें। अगर आप धीरी आवाज में बिना चिल्लाए बच्चे से बात करते हैं तो वह भी आपको देखकर सीखेगा।

चीखों को हंसी से बदलें

जब आपका बच्चा हंसते हुए लोटपोट हो रहा हो तो उसके लिए रोना मुश्किल होता है। ऐसे में जब बच्चा गुस्से में हो या फिर तेज चिल्ला रहा हो तो उसके साथ कुछ हंसी मजाक करें। ऐसा करके आप बच्चे का ध्यान कुछ देर के लिए भटका सकते हैं और उसका चीखना चिल्लाना बंद कर सकते हैं।

टैंट्रम ट्रिगर्स का अनुमान लगाएं

अगर आप जानते हैं कि आपका बच्चा भूख लगने पर आवाजें निकालता है तो उसे समय पर खाना दें। अगर खाने के समय बाहर घूमने या काम-काज की प्लानिंग कर रहे हैं तो साथ में खाने की चीज या स्नैक्स साथ लेकर जाएं।

बच्चे में शांत स्वभाव चाहते हैं तो पालन पोषण करते समय ध्यान रखें ये बातें

लेटेस्ट   Hindi News,  लोकसभा चुनाव 2024,  बॉलीवुड न्यूज,  बिजनेस न्यूज,  टेक,  ऑटो,  करियर ,और   राशिफल, पढ़ने के लिए Live Hindustan App डाउनलोड करें।

ऐप पर पढ़ें