Hindi Newsलाइफस्टाइल न्यूज़हेल्थWorld No Tobacco Day 2024 know why we celebrate world no tobacco day history importance and theme in hindi

World No-Tobacco Day 2024: क्यों मनाया जाता है 'वर्ल्ड नो टोबैको डे'? जानें विश्व तंबाकू निषेध दिवस का इतिहास और थीम

World No Tobacco Day 2024: कई लोग ई-सिगरेट के समर्थन में तर्क भी देते हैं और इससे कम खतरा होने की बात करते हैं। ऐसा नहीं है। ई-सिगरेट में भी निकोटीन होता है, जो शरीर को नुकसान पहुंचाता है। नशे का हर प्रकार हानिकारक ही होता है।

Manju Mamgain लाइव हिन्दुस्तानFri, 31 May 2024 12:02 PM
हमें फॉलो करें

World No Tobacco Day 2024: दुनिया भर में हर साल 31 मई को 'वर्ल्ड नो टोबैको डे' मनाया जाता है। हिंदी में इस दिन को विश्व तंबाकू निषेध दिवस के नाम से जाना जाता है। सेहत के लिए तंबाकू के खतरे को जानते हुए भी दुनियाभर में बड़ी संख्या में लोग किसी न किसी रूप से तंबाकू का सेवन करते हैं। बीड़ी, सिगरेट और गुटखा आदि के सेवन से कई तरह की बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है। ऐसे में लोगों को जागरूक करने, तंबाकू छोड़ने और कभी नहीं हाथ लगाने के लिए जागरूक करने के लिए यह तंबाकू विरोधी दिवस मनाया जाता है। आइए जानते हैं सबसे पहले तंबाकू निषेध दिवस मनाने की जरूरत कब और क्यों महसूस की गई। साथ ही वर्ल्ड नो टोबैको डे का क्या महत्व क्या है।

शैल्बी सनर इंटरनेशनल हॉस्पिटल्स के सर्जिकल ओंकोलोजी विभाग में कार्यरत डॉ. अर्चित पंडित के अनुसार, आज के दौर में बहुत से युवा ई-सिगरेट, वैपिंग, हुक्का और गांजा की तरफ रुख कर रहे हैं। कई लोग ई-सिगरेट के समर्थन में तर्क भी देते हैं और इससे कम खतरा होने की बात करते हैं। ऐसा नहीं है। ई-सिगरेट में भी निकोटीन होता है, जो शरीर को नुकसान पहुंचाता है। नशे का हर प्रकार हानिकारक ही होता है। आजकल सेकेंड हैंड स्मोकिंग का खतरा भी बढ़ रहा है। आसपास के लोगों के धूम्रपान करने से जो व्यक्ति धूम्रपान नहीं भी कर रहा होता है, वह भी अनजाने में उस खतरनाक धुएं का शिकार हो जाता है। वास्तव में हमें हर तरह के नशे से दूर रहने का प्रण लेना चाहिए। तंबाकू का कोई भी उत्पाद कैंसर जैसी गंभीर बीमारी का कारण बन सकता है। इसके अलावा अन्य नशे भी शरीर पर व्यापक दुष्प्रभाव डालते हैं।

विश्व तंबाकू निषेध दिवस मनाने की शुरुआत-

सबसे पहले विश्व स्वास्थ्य संगठन ने साल 1987 में तंबाकू निषेध दिवस मनाने का फैसला लिया। जिसके पीछे उस दौरान तंबाकू के सेवन से होने वाली मौतों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी होना था। हालांकि अगले वर्ष यानी 1988 में पहली बार विश्व तंबाकू निषेध दिवस अप्रैल माह में मनाया गया। जो बाद में विश्व तंबाकू निषेध दिवस मई माह में मनाया जाने लगा।

विश्व तंबाकू निषेध दिवस का महत्व-

दुनिया भर में युवा तेजी से तंबाकू उत्पादों के आकर्षण और संपर्क में आ रहे हैं, ऐसे में लोगों को तंबाकू के सेवन से रोकने के लिए इससे होने वाले नुकसान के प्रति जागरूक करने के उद्देश्य से प्रति वर्ष दुनियाभर में विश्व तंबाकू निषेध दिवस यानी वर्ल्ड नो टोबैको डे मनाया जाता है।

विश्व तंबाकू निषेध दिवस 2024 की थीम-

विश्व तंबाकू निषेध दिवस के लिए हर साल एक नई थीम रख जाती है। विश्व तंबाकू निषेध दिवस 2024 की थीम 'Protecting children from tobacco industry interference' यानी तंबाकू उद्योग की दखल से बच्चों की रक्षा करना है ताकि भविष्य की पीढ़ियों की रक्षा की जा सके।

लेटेस्ट   Hindi News,  लोकसभा चुनाव 2024,  बॉलीवुड न्यूज,  बिजनेस न्यूज,  टेक,  ऑटो,  करियर ,और   राशिफल, पढ़ने के लिए Live Hindustan App डाउनलोड करें।

ऐप पर पढ़ें