फोटो गैलरी

Hindi News लाइफस्टाइल हेल्थकमर के पास जमा चर्बी से छुटकारा पाने के लिए रोजाना करें ये 3 योगासन, जानें क्या है तरीका

कमर के पास जमा चर्बी से छुटकारा पाने के लिए रोजाना करें ये 3 योगासन, जानें क्या है तरीका

Yoga Poses To Reduce Side Belly Fat: कमर पर जमा फैट की वजह से व्यक्ति अपनी पसंद की फिटिंग की ड्रेस पहनने से भी बचता रहता है। ऐसा करने पर क्योंकि शरीर की चर्बी दिखने लगती है, जो देखने में खराब लगती है।

कमर के पास जमा चर्बी से छुटकारा पाने के लिए रोजाना करें ये 3 योगासन, जानें क्या है तरीका
Manju Mamgainलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 29 Nov 2023 05:08 PM
ऐप पर पढ़ें

Yoga Poses To Reduce Side Belly Fat: घंटों एक जगह बैठकर काम करने या फिर सुस्त लाइफस्टाइल की वजह से अक्सर लोगों की कमर के आसपास फैट जमा होने लगता है। शरीर के बाकी हिस्सों पर जमा चर्बी की तुलना में कमर के आसपास जमा होने वाला फैट देखने में ज्यादा बुरा लगता है। लव हैंडल की वजह से व्यक्ति अपनी पसंद की फिटिंग की ड्रेस पहनने से भी कतराता है। ऐसा करने पर क्योंकि उसकी कमर की चर्बी साफ नजर आने लगती है। अगर आप भी कमर की जिद्दी चर्बी से छुटकारा पाना चाहते हैं तो ये 3 योगासन आपकी मदद कर सकते हैं। आइए जानते हैं इनके बारे में- 

कमर की चर्बी को कम करने के लिए योगासन- 

परिघासन-
कमर की चर्बी को कम करने के लिए इस आसान को बेहद फायदेमंद माना जाता है। यह आपकी पेट की मांसपेशियों को टोन करके मांसपेशियों, आंतरिक जांघों, हैमस्ट्रिंग और रीढ़ को मजबूत करने के साथ स्ट्रेच करने में भी मदद करता है। परिघासन करने के लिए सबसे पहले योगा मैट पर घुटनों के बल खड़े होकर अपने दोनों घुटनों के बीच में थोड़ी दूरी बनाते हुए बाएं पैर को बाई ओर ले जाएं। ऐसा करते हुए अपने पैरों को पूरा खुला हुआ रखें और पैर का तलवा जमीन पर रखें। अब लंबी गहरी सांस लेते हुए अपने बाएं हाथ को बाएं पैर पर रखें। ऐसा करते हुए गहरी लंबी सांस लें और छोड़ते रहें। अपने दाएं हाथ को ऊपर उठाएं और बाएं ओर लेकर जाएं। आपका सिर और शरीर का हिस्सा दाएं और झुका होना चाहिए। इसी अवस्था में करीब 30 से 40 सेकेंड तक बने रहें और लंबी गहरी सांस लेते रहें। थोड़ी देर बाद पुरानी स्थिति में वापस आने के लिए अपने दाएं हाथ को सीधा करें और बाएं पैर के घुटने को मोड़ते हुए दोनों घुटनों को पास लेकर आएं। यही प्रक्रिया दूसरे पैर से भी दोहराएं।

वशिष्ठासन-
वशिष्ठासन करने से कमर के आसपास की चर्बी कम होने के साथ शरीर में संतुलन और स्थिरता भी बनी रहती है। यह योग कूल्हों और रीढ़ की हड्डी मजबूत रखने में मदद कर सकता है। वशिष्ठासन करने के लिए सबसे पहले योगा मैट पर दंडासन की मुद्रा में बैठकर अपने दोनों हाथों को फर्श पर रखते हुए कमर को झुकाने की कोशिश करें। इसके बाद अपने दोनों पैरों को पीछे की ओर ले जाते हुए सीधा रखते हुए शरीर का वजन दोनों पैरों और हाथों की उंगलियों पर रखें। अब अपने शरीर का वजन दाएं हाथ पर डालें और बाएं हाथ को ऊपर की ओर उठाएं। इस दौरान आपको सीधा पैर ऊपर की ओर ले जाना है। अब सांस को अंदर की ओर लेते हुए बाएं हाथ को ऊपर की ओर सीधा रखें। जिससे आपके दोनों हाथ एक सीधी रेखा में हो जाए। कुछ सेकंड इस स्थिति में बने रहने के बाद सांस छोड़ते हुए साधारण मुद्रा में आ जाए। 

उत्कटासन- 
उत्कटासन का अभ्यास करने से टखनों, जांघों और रीढ़ की हड्डी में मजबूती बनी रहने के साथ शरीर के ऊपरी हिस्से पर दवाब पड़ता है, जिससे कमर के साइड की चर्बी कम होने लगती है। उत्कटासन करने के लिए सबसे पहले योगा मैट पर सीधे खड़े होकर अपने दोनों पैरों को फैलाते हुए अपने हाथों को आगे की ओर फैलाएं। ऐसा करते हुए हथेलियां नीचे की तरफ रखें। अब अपने हाथ और कोहनियों को भी सीधा रखने की कोशिश करें। इसके बाद नीचे की तरफ बैठने की कोशिश करें। ठीक उसी तरह जैसे आप किसी कुर्सी पर बैठते हैं। ऐसा करते हुए अपनी रीढ़ की हड्डी को बिल्कुल सीधा रखें। कुछ देर इसी मुद्रा में बने रहकर नॉर्मल हो जाएं। 

यह भी पढ़ें: वेट लॉस ही नहीं करता आपका मूड भी अच्छा रखता है जुंबा, जानिए इसके फायदे

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें