फोटो गैलरी

Hindi News लाइफस्टाइल हेल्थYoga Mtyhs: ये हैं योग से जुड़े 5 मिथक जो फिटनेस से रखते हैं आपको कोसों दूर

Yoga Mtyhs: ये हैं योग से जुड़े 5 मिथक जो फिटनेस से रखते हैं आपको कोसों दूर

Yoga Mtyhs: योग को लेकर यही भ्रम और गलतफहमियां कई बार लोगों को इसे अपनी रोजमर्रा की लिस्ट में शामिल नहीं करने देते। योग और लाइफस्टाइल एक्सपर्ट काम्या से जानते हैं योग से जुड़े ऐसे ही 5 कॉमन मिथ के बार

Yoga Mtyhs: ये हैं योग से जुड़े 5 मिथक जो फिटनेस से रखते हैं आपको कोसों दूर
Manju Mamgainलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीMon, 29 Jan 2024 11:11 AM
ऐप पर पढ़ें

Yoga Mtyhs: भागदौड़ और तनाव भरे लाइफस्टाइल में योग व्यक्ति को शारीरिक ही नहीं बल्कि मानसिक रूप से भी फिट रखने में मदद करता है। योग करने से व्यक्ति को रोजमर्रा के जीवन में कई तरह के फायदे मिलते हैं। योग तनाव दूर करने के साथ मांसपेशियों में खिंचाव पैदा करके शरीर की थकान को भी दूर करने में मदद करता है, जिससे व्यक्ति हर समय फ्रेश महसूस करता है। सेहत के लिए इतना फायदेमंद होने के बावजूद कई बार जानकारी के अभाव में लोग योग को खुद से दूर कर बैठते हैं। बता दें, आज भी योग को लेकर लोगों में असंख्य मिथ मौजूद हैं। योग को लेकर यही भ्रम और गलतफहमियां कई बार लोगों को इसे अपनी रोजमर्रा की लिस्ट में शामिल नहीं करने देते। योग और लाइफस्टाइल एक्सपर्ट काम्या से जानते हैं योग से जुड़े ऐसे ही 5 कॉमन मिथ के बारे में। काम्या ने अपने इंस्टाग्राम हैंडल पर योग से जुड़े इन 5 कॉमन मिथकों पर बात की।

योग से जुड़े 5 कॉमन मिथक-    

योग सिर्फ महिलाओं के लिए है-
एक रिसर्च में यह बात सामने आई है कि पुरुष समझते हैं कि योग सिर्फ महिलाएं के लिए है जबकि यह बिल्कुल गलत है। जर्नल ऑफ सेक्सुअल मेडिसिन के मुताबिक योग पुरुषों के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद है। योग करने से पुरुषों की सेक्सुअल हेल्थ बेहतर होती है। ऐसे में योग से जुड़े इस मिथक पर विश्वास करने की जगह आज से ही योग का अभ्यास शुरू करें।

योग के लिए फैंसी कपड़ों की होती है जरूरत-
योग से जुड़े इस मिथक में बिल्कुल भी सच्चाई नहीं है। आपको किन कपड़ों को पहनकर योग का अभ्यास करना है, यह पूरी तरह से आपकी पसंद पर निर्भर करता है। आप अपने योग अभ्यास के लिए हमेशा वही कपड़े पहनें,जिन्हें पहनकर आप सहज महसूस करते हों। 

योग के लिए समय नहीं-
अगर आपको लगता है कि बिजी लाइफस्टाइल की वजह से आप योग के लिए समय नहीं निकाल पाएंगे तो आपकी यह सोच भी गलत है। योग करने के लिए आपको घंटों अभ्यास की जरूरत नहीं है। आप घर के काम करते हुए भी कई तरह के योग चलते फिरते कर सकते हैं। इस बात का ध्यान रखें कि ना करने से 10 मिनट किया गया योग भी सेहत के लिए फायदेमंद हो सकता है। इसलिए समय न होने का बहाना बनाना बंद करें और योग को अपनी प्राथमिकता बनाएं।  

योग के लिए बॉडी फ्लेक्सिबल नहीं है-
कई बार लोग यह सोचकर योग करने से बचते नजर आते हैं कि उनकी बॉडी फ्लेक्सिबल नहीं है। अगर आप भी योग को लेकर इस तरह सोचते हैं तो खुद से यह सवाल करें कि बिना योग किए बॉडी में लचीलापन कैसे आएगा। जर्नल ऑफ फिजिकल थेरेपी साइंस का एक अध्ययन जिसमें पाया गया कि जिन महिलाओं ने 90 मिनट तक 20 योगा क्लासेस कक्षाओं की एक सीरीज को अटेंड किया, उनकी रीढ़ की मांसपेशियों और हैमस्ट्रिंग में अधिक लचीलापन आया। इस बात से पुष्टि होती है कि योग का अभ्यास शुरू करने के लिए आपको अत्यधिक लचीला होने की आवश्यकता नहीं है। 

योग वजन घटाने की साधारण प्रक्रिया है-
योग केवल एक व्यायाम नहीं है जिससे शरीर का मात्र वजन घटता है। योग एक कला है जिसे करने से शारीरिक, मानसिक और भावनात्मक रूप से आराम मिलता है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें