फोटो गैलरी

Hindi News लाइफस्टाइल हेल्थपेट के पास जमा चर्बी से छुटकारा दिला सकता है हलासन, जानें फायदे और करने का सही तरीका

पेट के पास जमा चर्बी से छुटकारा दिला सकता है हलासन, जानें फायदे और करने का सही तरीका

Halasana For Belly Fat: कड़ी मेहनत के बावजूद बैली फैट को कम करना आसान काम नहीं होता। अगर आप भी पेट के आसपास जमा चर्बी से निजात पाना चाहते हैं तो हलासन आपकी मदद कर सकता है। आइए जानते हैं हलासन करने से

पेट के पास जमा चर्बी से छुटकारा दिला सकता है हलासन, जानें फायदे और करने का सही तरीका
Manju Mamgainलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीFri, 15 Dec 2023 02:47 PM
ऐप पर पढ़ें

Halasana For Belly Fat: बढ़ता मोटापा आज ज्यादातर लोगों के लिए परेशानी की बड़ी वजह बना हुआ है। खानपान की गलत आदतें और सुस्त जीवनशैली मोटापे की मुख्य वजह है। लोग मोटापे से निजात पाने के लिए डाइटिंग से लेकर जिम तक का सहारा लेते हैं। लेकिन कड़ी मेहनत के बावजूद बैली फैट को कम करना आसान काम नहीं होता। अगर आप भी पेट के आसपास जमा चर्बी से निजात पाना चाहते हैं तो हलासन आपकी मदद कर सकता है। आइए जानते हैं हलासन करने से व्यक्ति को मिलते हैं क्या-क्या फायदे और क्या है इसे करने का सही तरीका।  

हलासन करने का सही तरीका-

हलासन करने के लिए सबसे पहले पीठ के बल लेटकर गहरी सांस भीतर की ओर लेते हुए अपने पैरों को धीरे-धीरे उठाएं। अपने पैरों को पहले 30 डिग्री और फिर 90 डिग्री तक उठाने के बाद सिर के पीछे की ओर ले जाएं। ऐसा करते हुए अपनी पीठ को भी ऊपर उठाते हुए सांस बाहर की तरफ छोड़ें। इसके बाद अपने पैरों को सिर के पीछे जमीन पर टिका दें। ऐसा करते समय अपनी सांसों को सामान्य बनाए रखें। ऐसा करते समय आप चाहे तो इस आसन को करते समय अपनी कमर के पीछे हाथ भी लगा सकते हैं। साधक इस स्थिति में लगभग 30 सेकेंड तक बने रहने के बाद धीरे-धीरे अपनी प्रांरभिक अवस्था में वापस आ सकता है।

हलासन करने के फायदे-
-हल की मुद्रा वजन घटाने में मदद करती है, खासकर पेट की चर्बी को कम करने में ये योग काफी लाभकारी माना जाता है।
-हलासन करने से चेहरे पर निखार आता है। दरअसल, हलासन के अभ्यास के दौरान ब्लड सर्कुलेशन अधिकतम हो जाता है और ऑक्सीजन फ्लो भी बेहतर होता है। जिससे चेहरे की त्वचा और रंग दोनों में सुधार होने लगता है। इस योग के नियमित अभ्यास से पिंपल्स, झुर्रियों जैसी स्किन से जुड़ी समस्याओं को भी दूर रखने में मदद मिलती है। 
-इस योगासन को करने से खराब पोश्चर को ठीक करने में मदद मिल सकती है। 
-हलासन का अभ्यास करने से आपका पाचन तंत्र मजबूत होता है और मेटाबॉलिज्म रेट बढ़ाने में भी मदद मिलती है। 
-इस योगासन के अभ्यास से तनाव, पीरियड्स और गर्दन की चोट के दौरान होने वाले दर्द को दूर कर सकते हैं। 
-हलासन करने से गैस, कब्ज और अपच की दिक्कत दूर हो सकती है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें