फोटो गैलरी

Hindi News लाइफस्टाइल हेल्थभूलकर भी इन 5 लोगों को नहीं करना चाहिए सत्तू का सेवन, ये होते हैं साइड इफेक्ट्स

भूलकर भी इन 5 लोगों को नहीं करना चाहिए सत्तू का सेवन, ये होते हैं साइड इफेक्ट्स

Side effects of Sattu: गर्मियों में लोग खासतौर पर सत्तू का सेवन वेट लॉस और शरीर को ठंडा बनाए रखने के लिए करते हैं। सेहत के लिए इतना फायदेमंद होने के बावजूद कई लोगों को इसका सेवन करने की मनाही होती है।

भूलकर भी इन 5 लोगों को नहीं करना चाहिए सत्तू का सेवन, ये होते हैं साइड इफेक्ट्स
Manju Mamgainलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीThu, 29 Feb 2024 09:18 AM
ऐप पर पढ़ें

Side effects of Sattu: भारतीय रसोई में समय की बचत के साथ सेहत का भी खास ख्याल रखने वाले कई रेडी-टू-ईट फूड मौजूद होते हैं। ऐसे ही फूड्स में सत्तू का नाम भी शामिल है। चना और अन्य साबूत अनाज के मिश्रण से बना सत्तू का आटा पोषण से भरपूर होने के साथ धूप और डिहाईड्रेशन की समस्या को भी दूर रखने में मदद करता है। सत्तू में प्रोटीन, फाइबर, विटामिन, और मिनरल्स की अच्छी मात्रा होती है।गर्मियों में लोग खासतौर पर सत्तू का सेवन वेट लॉस और शरीर को ठंडा बनाए रखने के लिए करते हैं। सेहत के लिए इतना फायदेमंद होने के बावजूद कई लोगों को इसका सेवन करने की मनाही होती है। इन लोगों को सत्तू का सेवन करने से फायदे की जगह नुकसान हो सकता है। आइए जानते हैं सेहतमंद बने रहने के लिए आखिर किन लोगों को भूलकर भी नहीं करना चाहिए सत्तू का सेवन। 

इन लोगों को नहीं करना चाहिए सत्तू का सेवन-  

गैस की समस्या-
सत्तू का जरूरत से ज्यादा सेवन पेट में गैस बनने की समस्या पैदा कर सकता है। दरअसल, सत्तू की तासीर ठंडी होने की वजह से कई बार लोग इसका सेवन गर्मियों में अधिक कर लेते हैं। लेकिन आप अगर पहले से ही पेट में गैस बनने से परेशान रहते हैं तो  सत्तू का सेवन आपकी समस्या को और ज्यादा बढ़ा सकता है। सत्तू में फाइबर की अधिक मात्रा गैस,पेट फूलना,ऐंठन और दस्त का कारण बन सकती है। 

पथरी-
अगर आपको पथरी की समस्या है तो भूलकर भी सत्तू का सेवन ना करें। सत्तू का सेवन आपकी समस्या को और अधिक बढ़ाकर पथरी के दर्द उठने का कारण भी बन सकता है। अगर आपको पहले से ही पथरी की समस्या है तो ऐसी स्थिति में सत्तू से दूर रहना ही बेहतर है। बता दें, चने का सत्तू किडनी की पथरी होने पर नहीं लेना चाहिए, लेकिन जौ का सत्तू किडनी स्टोन में लिया जा सकता है।

एलर्जी-
कुछ लोगों को चने के सत्तू का सेवन करने से एलर्जी हो सकती है। ऐसे लोगों को सत्तू को पचाने में थोड़ी मुश्किल हो सकती है। दरअसल, कुछ लोग सत्तू या उसमें पाए जाने वाले किसी अन्य तत्वो के प्रति संवेदनशील हो सकते हैं और उन्हें सत्तू खाने से एलर्जी हो सकती है। इस तरह के लोगों को सत्तू के सेवन से दूर रहना चाहिए। यह उनकी सेहत को फायदे की जगह नुकसान पहुंचा सकता है।  

वात दोष-
सत्तू की तासीर बहुत ठंडी होती है, इसके वात प्रकृति के लोगों में वात दोष पैदा हो सकता है। इसलिए जिन लोगों को वात दोष है, उन्हें सत्तू का सेवन करने से बचना चाहिए। ठंडी चीजें वात दोष को बढ़ा सकती है। इसके अलावा सत्तू की तासीर ठंडी होती है इसे खाने के बाद लोगों को प्यास काफी ज्यादा लगती है, ऐसे में वात दोष से पीड़ित व्यक्ति को इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

लो ब्लड शुगर-
सत्तू रक्त में मौजूद शुगर के स्तर को कम कर सकता है, इसलिए लो ब्लड शुगर वालों को इसका सेवन अधिक नहीं करना चाहिए।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें