फोटो गैलरी

Hindi News लाइफस्टाइल हेल्थDigestion Drink: खाने के बाद डाइजेशन हो जाता मुश्किल तो इन 5 ड्रिंक को डाइट में करें शामिल

Digestion Drink: खाने के बाद डाइजेशन हो जाता मुश्किल तो इन 5 ड्रिंक को डाइट में करें शामिल

Herbal Drink For Digestion: खाने के बाद पेट में भारीपन महसूस होता है और खाना पचाना मुश्किल हो जाता है। गैस, ब्लॉटिंग, एसिडिटी और अपच की समस्या होने लगती है तो इन हर्बल ड्रिंक को पीने से मिलेगा फायदा।

Digestion Drink: खाने के बाद डाइजेशन हो जाता मुश्किल तो इन 5 ड्रिंक को डाइट में करें शामिल
Aparajitaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 29 Feb 2024 11:53 AM
ऐप पर पढ़ें

खाना खाने के बाद ज्यादातर लोग पेट में भारीपन महसूस करते हैं। ब्लॉटिंग और खाना पचाने में दिक्कत की समस्या बहुत सारे लोगों को परेशान करती है। डाइजेशन की समस्या दूर करने के लिए ज्यादातर लोग एंटासिड जैसी दवाओं को लेते हैं। लेकिन ये स्थाई समाधान नही है। अगर आप चाहते हैं कि ब्लॉटिंग, भारीपन महसूस होना और अपच की समस्या हर रोज ना हो तो सस्ता तरीका है घर में हर्बल चाय पीना। ये हर्बल ड्रिंक पीने से डाइजेशन की समस्या कम होती है। जानें कौन सी हर्बल ड्रिंक डाइजेशन के लिए पी जा सकती है। 

जीरा वाटर
जीरे से बनी चाय डाइजेशन की समस्या को कम कर सकती है। जिन लोगों को कब्ज की समस्या परेशान करती है। उन्हें जीरा वाटर फायदा पहुंचा सकता है। जीरा वाटर बनाने के लिए जीरे को ड्राई रोस्ट कर पाउडर बना लें। एक गिलास गुनगुने पानी में एक चम्मच जीरा पाउडर डालें और साथ में कुछ बूंदे नींबू के रस की डाल दें। जिससे इसका स्वाद रिफ्रेशिंग हो जाए। अब इस हर्बल ड्रिंक को पिएं। जीरा वाटर पेट में हो रही कब्ज और पेट फूलने की समस्या में आराम दिलाता है। लेकिन ध्यान रहे कि जीरा वाटर के साथ दिनभर पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं।

कैमोमाइल टी
कैमोमाइल टी में एंटी इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज होती है। जिसकी वजह से ये चाय मसल्स को आराम पहुंचाने में मदद करती है। ये चाय पेट में हो रहे अपच और भारीपन को कम करती है और खाना पचाने में मदद करती है। कैमोमाइल टी बैग को गर्म पानी में डुबोकर चाय बनाएं और पिएं। इससे शरीर को आराम मिलता है। 

सौंफ की चाय
जिन लोगों को खाना खाने के बाद अपच, ब्लॉटिंग, पेट फूलना जैसी समस्या परेशान करती रहती है। उन्हें सौंफ की चाय पीने से फायदा हो सकता है। एक कप गर्म पानी में एक चम्मच सौंफ डालकर एक मिनट रख दें। फिर छान लें। सौंफ की चाय पीने से ना केवल फ्रेशनेस आती है बल्कि गैस कम होने और खाने के बाद होने वाली दिक्कत में आराम मिलता है। 

जिंजर टी
अदरक की चाय का इस्तेमाल ज्यादातर सर्दी-जुकाम को कम करने के लिए किया जाता है। लेकिन साथ ही जिंजर टी बाइल प्रोडक्शन को बढ़ाता है। जिससे खाने को पचाने में मदद मिलती है। आधा गिलास पानी में थोड़ा सा अदरक घिसकर मिलाएं और करीब 15 मिनट तक उबालें। छानकर ये चाय पिएं। 

मिंट टी
पुदीना की चाय एसिडिटी, गैस, पेट फूलना, अपच जैसी समस्या के लिए बहुत असरदार है। पुदीने की पत्तियों को गर्म पानी में उबालकर पिएं। पेट में होने वाली जलन, एसिडिटी खासतौर पर गर्मियों में होने वाली जलन के लिए मिंट टी असरदार हर्बल ड्रिंक है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें