फोटो गैलरी

Hindi News लाइफस्टाइल हेल्थPCOS के साथ अनियमित पीरियड्स की समस्या भी होगी दूर बस अपनाएं ये 5 देसी तरीके

PCOS के साथ अनियमित पीरियड्स की समस्या भी होगी दूर बस अपनाएं ये 5 देसी तरीके

Natural Treatment PCOS: योग एक्सपर्ट काम्या ने अपने वीडियों में दादी-नानी के समय के 5 ऐसी रूटिन एक्सरसाइज के बारे में बताया है, जिससे पीसीओएस के लक्षणों को कम करने में मदद मिल सकती है।

PCOS के साथ अनियमित पीरियड्स की समस्या भी होगी दूर बस अपनाएं ये 5 देसी तरीके
Manju Mamgainलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीWed, 07 Feb 2024 11:22 AM
ऐप पर पढ़ें

Natural Treatment PCOS: दुनियाभर में आज पीसीओएस से पीड़ित महिलाओं की संख्या काफी तेजी से बढ़ती जा रही है। पीसीओएस को पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम के नाम से भी जाना जाता है। यह महिलाओं में होने वाली एक गंभीर ओवरी से जुड़ी समस्या है। जिसकी वजह से महिलाओं के शरीर में हार्मोन असुंतलन की स्थिति उत्पन्न हो जाती है। दरअसल, इस समस्या में महिला के शरीर में मेल हार्मोन 'एण्ड्रोजन' का लेवल बढ़ जाता है और अंडाशय पर एक से ज़्यादा सिस्ट बनने लगते हैं। आमतौर पर इसे जीवनशैली से जुड़ा रोग माना जाता है लेकिन अभी तक इसके असल कारण के बारे में पता नहीं चल पाया है। योग और लाइफस्टाइल एक्सपर्ट काम्या ने अपने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो शेयर करके बताया है कि कैसे बिना किसी हैवी वर्कआउट के भी आप बस अपनी लाइफस्टाइल में थोड़ा सा बदलाव करके पीसीओएस जैसी समस्या से राहत पा सकते हैं। काम्या बताती हैं कि हमारी नानी-दादी ने कभी पीसीओएस जैसी किसी समस्या की शिकायत नहीं की, जिसके पीछे उनका रोजमर्रा का रूटिन जिसमें फर्श पर या मलासन में बैठकर कपड़े धोना,अनाज पीसना,फर्श साफ करना,भोजन तैयार करना जैसी चीजें शामिल थीं। लेकिन आज ज्यादातर महिलाएं खानपान की खराब आदतों, लंबे समय तक स्क्रीन के सामने बैठने, पर्याप्त नींद नहीं लेने और अधिक तनाव लेने के कारण पीसीओएस और अनियमित माहवारी से परेशान रहती हैं। योग एक्सपर्ट काम्या ने अपने वीडियों में दादी-नानी के समय के 5 ऐसी रूटिन एक्सरसाइज के बारे में बताया है, जिससे पीसीओएस के लक्षणों को कम करने में मदद मिल सकती है।

बटर चर्निंग-
पहले के समय में महिलाएं बाजार से मक्खन खरीदने की जगह घर पर ही मक्खन मथा करती थीं। बटर चर्निंग के दौरान शरीर में होने वाली ये मूवमेंट ना सिर्फ क्रीम से मक्खन निकालने में मदद करती थी बल्कि महिलाओं को पीसीओएस की वजह से होने वाले अनियमित पीरियड्स और तनाव से भी दूर रखती थी। बटर चर्निंग एक्सरसाइज करने के लिए सबसे पहले जमीन पर  पैरों को सीधा करके बैठ जाएं। इसके बाद अपने दोनों हाथों की उंगलियों की मुठ्ठी को बंद करते हुए अपने दोनों हाथ हवा में ऐसे चलाएं जैसे आप मक्खन मथ रहे हों। 

जमीन पर झाड़ू लगाना-
अपने दूसरे उपाय में आपको अपने शरीर को इस पोजिशन में रखना है जैसे आप बैठकर जमीन पर झाडू लगा रहे हों। इसके लिए आपको अपने दोनों हाथों को सामने की तरफ रखते हुए एक दूसरे के साथ जोड़ लेना है। इसके बाद हाथों को जोड़कर बैठे-बैठे ही आगे बढ़ने के लिए अपने पैरों को आगे-पीछे चलाएं, जैसा आप घर पर झाडू लगाते समय करते हैं। 

चक्की पीसना-
इस तीसरी एक्सरसाइज में आपको अपने पैर जमीन पर आगे की तरफ फैलाते हुए अपनी दोनों हथेलियों को आपस में जोड़कर आगे की तरफ दाएं से बाएं ओर लेकर जाना है। इस एक्सरसाइज को करते समय सामने वाले व्यक्ति को ऐसा प्रतित होता है जैसे आप चक्की चला रहे हों। 

लकड़ी काटना-
महिलाएं अनियमित पीरियड्स की समस्या से राहत पाने के लिए अपनी चौथी एक्सरसाइज में लकड़ी काटने जैसी पोजिशन में आ जाएं। इसके लिए आपको जमीन पर पैरों के बल बैठकर अपने हाथों को आपस में जोड़कर ऊपर से नीचे की तरफ लेकर आना है। ठीक उसी तरह जैसे कोई व्यक्ति लकड़ी काटने के लिए करता है। 

इंडियन टॉयलेट सीट-
इस पांचवीं एक्सरसाइज में महिला को जमीन में पैरों के बल ठीक उसी तरह बैठना है, जैसे कि आप इंडियन टॉयलेट सीट में बैठते समय रहते हैं। इसके बाद एक-एक करके अपने दोनों घुटनों को हाथ से पकड़कर नीचे की ओर लेकर आएं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें