फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ लाइफस्टाइल हेल्थPeriod Rashes से बचने के लिए अपनाएं ये आसान उपाय, मुश्किल हो जाएगी आसान

Period Rashes से बचने के लिए अपनाएं ये आसान उपाय, मुश्किल हो जाएगी आसान

How to Cure Period Rashes at Home: पीरियड्स रैश की समस्या ज्यादातर सैनिटरी नैपकिन का उपयोग, अधिक नमी और नैपकिन के स्किन पर रगड़ने की वजह से पैदा होती है। अगर आपको भी पीरियड्स के दौरान रैश की परेशानी ह

Period Rashes से बचने के लिए अपनाएं ये आसान उपाय, मुश्किल हो जाएगी आसान
Manju Mamgainलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीWed, 30 Nov 2022 06:21 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

Tips to cure Period Rashes: पीरियड्स के दौरान ज्‍यादातर महिलाओं को दर्द, सूजन और मूड स्विंग्‍स जैसी कई समस्‍याओं का सामना करना पड़ता है। परेशानी तब और ज्यादा बढ़ जाती है जब महिला को पीरियड्स के साथ रैश भी होने लगते हैं। जिसकी वजह से उन्हें चलने और बैठने तक में परेशानी होने लगती है। पीरियड्स रैश की समस्या ज्यादातर सैनिटरी नैपकिन का उपयोग, अधिक नमी और नैपकिन के स्किन पर रगड़ने की वजह से पैदा होती है। अगर आपको भी पीरियड्स के दौरान रैश की परेशानी होती है तो राहत के लिए अपनाएं ये आसान उपाय।

पीरियड्स रैशेज से बचने के उपाय-
बदलते रहें पैड-

लंबे समय तक एक ही पैड लगाकर न रखें। ऐसा करना न सिर्फ रैशेज की वजह बनता है बल्कि आपकी सेहत के लिए भी खतरा पैदा कर सकता है। ऐसे में रैशेज से बचने के लिए पैड को बार-बार बदलने की आदत डालें।

नियमित रूप से करें सफाई- 
पीरियड्स के दौरान होने वाले रैशेज का सबसे बड़ा कारण, पर्सनल पार्ट की अच्छी तरह सफाई न करना। इस समय महिलाओं को नहाते समय या हर बार पेशाब जाने के बाद अपने इंटिमेट पार्ट को पानी से धो लेना चाहिए, ताकि किसी भी प्रकार का बैक्‍टीरिया न पनप पाएं। 

सस्ते नैपकिन का यूज न करें-
कई बार महिलाएं पैसों की बचत करने के लिए सस्ते सेनेटरी पैड का यूज कर लेती हैं। सस्ते और खराब ब्रांड का पैड यूज करने से स्किन रैशेज का डर अधिक बढ़ जाता है। सेनेटरी नैपकिन लेते समय क्वालिटी का ध्यान दें। 

सही अंडरवियर पहनें-
पीरियड्स के दौरान सही अंडरवियर का यूज करना चाहिए। गर्मियों में कॉटन की अंडरवियर का यूज करें। इससे ज्यादा पसीना नहीं आता है। सिंथेटिक और टाइट अंडरवियर पहनने से बचना चाहिए। 

बर्फ की सिकाई-
पीरियड्स रैश में कई बार जलन और दर्द की समस्‍या भी हो जाती है ऐसे में बर्फ की सिकाई से आराम मिल सकता है। बर्फ का यूज करने के लिए एक साफ कपड़े में कुछ बर्फ के टुकड़े रखें और रैश के आसपास के हिस्‍से की सिकाई करें। सिकाई करने से सूजन, दर्द और जलन में तुरंत राहत मिल जाएगी।