फोटो गैलरी

Hindi News लाइफस्टाइल हेल्थSteam Food: भाप में पके फूड को खाने की डालें आदत, सेहत के लिए है जबरदस्त फायदेमंद

Steam Food: भाप में पके फूड को खाने की डालें आदत, सेहत के लिए है जबरदस्त फायदेमंद

Steam Food: खाना पकाने का तरीका सेहत पर पूरी तरह से असर डालता है। अगर आप खाने को भाप में पकाकर खाते हैं तो इसके काफी सारे फायदे हैं। जानें स्टीम फूड खाने से सेहत पर क्या असर होता है।

Steam Food: भाप में पके फूड को खाने की डालें आदत, सेहत के लिए है जबरदस्त फायदेमंद
Aparajitaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 06 Dec 2023 01:22 PM
ऐप पर पढ़ें

हेल्दी रहना है केवल हेल्दी फूड से काम नहीं चलेगा बल्कि आप इसे किस तरह से पकाकर खा रहे हैं। इसका भी असर सेहत पर पड़ता है। हमेशा तले भोजन को खाने के लिए मना किया जाता है। क्योंकि ये शरीर में कोलेस्ट्रॉल लेवल को बढ़ाता है। ऐसे में सवाल उठता है कि फिर खाने को किस तरह पकाकर खाया जाए? तो जवाब है भाप में पकाकर। भाप में पका खाना उबले खाने से भी ज्यादा हेल्दी होता है। सबसे खास बात कि भाप में पके खाने से स्वाद पर भी ज्यादा असर नहीं पड़ता। बल्कि काफी सारी डिश ऐसी हैं जो भाप में बनने की वजह से हर किसी को पसंद आती है। तो चलिए जानें स्टीम फूड को खाने के फायदे।

भाप में पका खाना न्यूट्रिशन को बचाकर रखता है
भाप में पका खाना सीधे हीट के संपंर्क में नहीं रहता है। जिसकी वजह से खाने में मौजूद पोषक तत्व खत्म नहीं होते। अक्सर जब खाने को ऊंचे तापमान में पका दिया जाता है तो उसके सारे जरूरी पोषक तत्व मर जाते हैं। खासतौर पर विटामिन सी और फोलिक एसिड उबालने से खत्म हो जाते हैं। लेकिन जब आप किसी फूड को स्टीम में पकाते हैं तो ये सारे जरूरी न्यूट्रिशन खाने में बने रहते हैं। जिसे खाना सेहत के लिए पूरी तरह से फायदेमंद होता है। 

भाप में पकाने से खाना फैट फ्री रहता है
भाप में पकाने से खाना पूरी तरह से फैट फ्री रहता है। बस तेल की कुछ बूंदों को स्टीमर की सतह पर लगाया जाता है। जिससे कि फूड चिपके नहीं। इसलिए स्टीम में कुकिंग बाकी सारे तरीकों ग्रिलिंग, उबालना, फ्राई करना, भुनना से बेस्ट है। 

खाने में मौजूद रहता है मॉइश्चर
जब हम खाने को भाप में पकाते हैं तो उसमे नेचुरल मॉइश्चर मौजूद रहता है। जिसकी वजह से उसमे फेनोलिक कंपाउंड, बीटा कैरोटीन बचे रहते हैं। जो सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं। भाप में पकी सब्जियों में फाइटोकेमिकल्स की मात्रा बरकरार रहती है। जो सेहत के लिए जरूरी है।

पचने में आसान होता है स्टीम फूड
स्टीम में पके होने की वजह से खाने में एंटीऑक्सीडेंट्स मौजूद रहते हैं। जो कि ऊंचे तापमान में पकाने की वजह से खत्म हो जाते हैं। जब आप किसी भी फूड चाहे फिश हो या फिर स्प्राउट्स, सब्जियां, इन्हें स्टीम करते हैं। तो पचने में आसान हो जाती हैं। तो जिन लोगों का डाइजेशन कमजोर होता है उन्हें स्टीम फूड खाना चाहिए।

सारे बैक्टीरिया खत्म हो जाते हैं
भाप का तापमान उबलते पानी से ज्यादा होता है। इस तापमान पर जब आप फूड को पकाते हैं तो उसमे से सारे बैक्टीरिया तो खत्म हो जाते हैं लेकिन जरूरी न्यूट्रिशन बचे रहते हैं। 

टेस्ट बना रहता है
स्टीमिंग प्रोसेस से खाना बनाना आसान होने के साथ ही जल्दी बन जाता है। साथ ही खाना टेस्टी भी बनता है। इडली, ढोकला, मोमो, फरा जैसी इंडियन डिशेज के अलावा चाइनीज और कोरियन डिश को भाप में पकाया जाता है। जो कि सेहत के लिए फायदेमंद रहती हैं। तो अगर हेल्दी रहना चाहते हैं तो स्टीम फूड को डाइट में शामिल करें।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें