फोटो गैलरी

Hindi News लाइफस्टाइल हेल्थPregnancy After 45: उम्र बढ़ने पर प्रेग्नेंसी हो सकती है बच्चे के लिए खतरनाक, इन बीमारियों का रहता है खतरा

Pregnancy After 45: उम्र बढ़ने पर प्रेग्नेंसी हो सकती है बच्चे के लिए खतरनाक, इन बीमारियों का रहता है खतरा

Pregnancy After 45: 45 की उम्र के बाद प्रेग्नेंसी काफी मुश्किल होती है लेकिन नई तकनीक की मदद से ये संभव है। लेकिन बढ़ती उम्र में प्रेग्नेंसी होने वाले बच्चे के लिए भी कई समस्याएं लेकर आती है।

Pregnancy After 45: उम्र बढ़ने पर प्रेग्नेंसी हो सकती है बच्चे के लिए खतरनाक, इन बीमारियों का रहता है खतरा
Aparajitaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 28 Feb 2024 11:12 AM
ऐप पर पढ़ें

सिंगर सिद्धू मूसावाला की मां 58 की उम्र में प्रेग्नेंट हैं। आईवीएफ के जरिए बढ़ती उम्र में भी प्रेग्नेंसी संभव है। लेकिन इस दौरान काफी सारी सावधानियों की जरूरत होती है। 45 के बाद अगर आप प्रेग्नेंसी प्लान कर रही हैं तो इस वक्त केवल मां को ही नहीं बल्कि होने वाले बच्चे को भी कई सारी सेहत से जुड़ी समस्याएं होने का खतरा रहता है। 

बढ़ती उम्र में प्रेग्नेंसी होने वाले बच्चे के लिए हेल्थ से जुड़ी दिक्कतें पैदा कर देती है। जिसमे पहला खतरा डाउन सिंड्रोम का होता है। 

पैदा होने वाले बच्चे को होता है डाउन सिंड्रोम का खतरा
45 की उम्र के बाद 35 बच्चों में से एक बच्चे के डाउन सिंड्रोम की समस्या का शिकार होने का खतरा रहता है। जबकि कम उम्र में प्रेग्नेंसी के दौरान ये खतरा काफी कम होता है। डाउन सिंड्रोम जेनेटिक कंडीशन है। जिसमे बड़ी उम्र के पैरेंट्स के क्रोमोसोमल कंडीशन बच्चे के लिए नुकसानदायक हो सकते हैं। 

प्रीटर्म बेबी 
बच्चे के समय से पहले पैदा होने का खतरा रहता है। हालांकि मॉडर्न तकनीक से समय से पहले पैदा होने वाले बच्चों को बचाया तो जा सकता है। लेकिन ये बच्चे कई सारी शारीरिक समस्याओं से घिरे रहते हैं। जिसमे 
-ब्रीदिंग प्रॉब्लम,
-स्तनपान ठीक से ना कर पाने की समस्या, 
-सेलेब्रल पालिसी, 
-देर से शारीरिक विकास, 
-सुनने में समस्या और 
-आंखों की कमजोर रोशनी की समस्या होने का खतरा रहता है। 

बच्चों को हो जाती है ये समस्याएं
रिसर्च में पता चला है कि 45 से 50 की उम्र के बाद प्रेग्नेंसी की वजह से नवजात की ग्रोथ पर असर पड़ता है। वहीं 15 प्रतिशत बच्चे जन्म के समय सामान्य से ज्यादा वजन के पैदा होते हैं। 

ऐसे रखें ख्याल
45 के बाद अगर प्रेग्नेंसी प्लान कर रही हैं तो ऐसे मौके पर खास ख्याल रखना जरूरी है। 
प्रेग्नेंसी से पहले चेकअप
45 की उम्र के बाद प्रेग्नेंसी प्लान करने से पहले डॉक्टर से चेकअप जरूरी है। जिससे आपके शरीर में जरूरी न्यूट्रिशन की कमी ना हो और किसी भी तरह की समस्या होने पर सही उपचार किया जा सके।

रेगुलर चेकअप है जरूरी
बढ़ती उम्र में प्रेग्नेसी काफी सारे हेल्थ ईश्यू लेकर आती है। जेस्टेशनल डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर का सबसे ज्यादा असर होता है। ऐसे में किसी भी समस्या से बचने के लिए डॉक्टर की निगरानी जरूरी होता है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें