फोटो गैलरी

Hindi News लाइफस्टाइल हेल्थDiet For Diabetes: डायबिटिक मरीजों को खानी चाहिए इन आटे की रोटी, ब्लड शुगर रहेगा मैनेज

Diet For Diabetes: डायबिटिक मरीजों को खानी चाहिए इन आटे की रोटी, ब्लड शुगर रहेगा मैनेज

Diet For Diabetic: डायबिटीज की समस्या परेशान कर रही है तो अपनी लाइफस्टाइल के साथ ही खानपान में बदलाव जरूरी है। रोजाना इन आटे की रोटी खाने से ब्लड शुगर लेवल मेंटेन करना आसान हो जाएगा।

Diet For Diabetes: डायबिटिक मरीजों को खानी चाहिए इन आटे की रोटी, ब्लड शुगर रहेगा मैनेज
Aparajitaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 30 Jan 2024 03:21 PM
ऐप पर पढ़ें

शरीर में ब्लड शुगर का उतार-चढ़ाव डायबिटीज की समस्या पैदा कर देता है। ऐसे में एक्सपर्ट हमेशा यहीं सलाह देते हैं कि अगर टाइप टू कैटेगरी का डायबिटीज है तो उसे सही और एक्टिव लाइफस्टाइल और हेल्दी फूड्स के माध्यम से रिवर्स किया जा सकता है। ब्लड शुगर को मैनेज करने के लिए गेहूं के आटे की रोटी की बजाय इन आटे की रोटी को खाना चाहिए। ये आटे आसानी से ब्लड शुगर को मैनेज करने में मदद करते हैं। 

रागी आटा
न्यूट्रिशन एक्सपर्ट का मानना है कि रागी का आटा डायबिटीज पेशेंट के लिए फायदेमंद है। कार्बोहाइड्रेट की कम मात्रा और फाइबर का रिच सोर्स होने की वजह से देर तक पेट को भरा रखता है। साथ फाइबर धीरे-धीरे डाइेजस्ट होता है। जिसकी वजह से ब्लड शुगर लेवल एकदम से नहीं बढ़ता और मैनेज करना आसान हो जाता है।

जौ का आटा
जौ के आटे की रोटी भी डायबिटीज में खाना फायदेमंद होता है। जौ की रोटी ना केवल आंतों के हार्मोंस को बढ़ाती है। जिससे मेटाबॉलिज्म बूस्ट होता है। वहीं शरीर में हो रही सूजन को कम करने में भी जौ मदद करता है। ब्लड शुगर को मैनेज करने के लिए जौ की रोटी खाना बेहतरीन विकल्प है। 

रामदाना या अमरनाथ का आटा
अमरनाथ के आटे को रामदाना का आटा भी कहते हैं। ये एंटी डायबिटिक और एंटीऑक्सडेटिव इफेक्ट के लिए जाना जाता है। अगर अमरनाथ की रोटी को रोजाना डाइट में शामिल करते हैं तो ये ब्लड शुगर लेवल को सही रखने में मदद करेगा। रामदाना में काफी ज्यादा मात्रा में प्रोटीन होता है। साथ ही मिनरल्स, विटामिंस के साथ लिपिड की अच्छी खासी मात्रा होती है। जो डायबिटीज की बीमारी के लिए बेहद जरूरी है। 

चने का आटा
चने के आटे में गेहूं की तुलना में बहुत कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है। साथ ही मौजूद सॉल्यूएबल फाइबर ब्लड शुगर को कम करने में मदद करते हैं। यहीं नहीं चने का आटा खून में शुगर को जल्दी से अब्जॉर्ब होने से भी रोकता है। जिसकी वजह से ब्लड शुगर लेवल खाने के फौरन बाद एकदम से नहीं बढ़ता।

इन बातों का ध्यान रखना है जरूरी
डायबिटीज मरीजों को अपने खाने की क्वालिटी के साथ ही क्वाटिंटी का ध्यान रखना भी जरूरी होता है। कितनी मात्रा में खाया यानी पोर्शन कंट्रोल डायबिटीज में जरूरी है। जिससे कि आप ना केवल मोटापे से बचे रहें बल्कि ब्लड शुगर लेवर भी कंट्रोल में रहे।

Glaucoma: आंखों में दिख रही ये समस्या देती है ग्लूकोमा का संकेत, समय रहते कर लें पहचान

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें