फोटो गैलरी

Hindi News लाइफस्टाइल हेल्थरात को दूध में मिलाकर पिएं ये चीज, इन परेशानियों में मिलेगा आराम

रात को दूध में मिलाकर पिएं ये चीज, इन परेशानियों में मिलेगा आराम

Nutmeg Benefits: जायफल का इस्तेमाल केवल मसाले के तौर पर ही नहीं किया जाता बल्कि ये औषधि के रूप में भी फायदेमंद है। रोजाना दूध में इसे मिलाकर पीने से सेहत को कई सारी समस्याओं से छुटकारा मिलता है।

रात को दूध में मिलाकर पिएं ये चीज, इन परेशानियों में मिलेगा आराम
Aparajitaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSat, 17 Feb 2024 04:56 PM
ऐप पर पढ़ें

रात को सोने से पहले दूध पीना सेहत के लिए फायदेमंद होता है। लेकिन प्लेन दूध की बजाय अगर आप इसमे एक चुटकी जायफल मिलाकर पीते हैं। तो ये शरीर की कई सारी परेशानियों से राहत दिलाता है। दादी-नानी अक्सर सर्दियों में जायफल को लेने की सलाह देती हैं। लेकिन अगर आप उनकी बात को इग्नोर करते हैं। तो इन फायदों को जरूर पढ़ लें। जो रोजाना रात को दूध में जायफल मिलाकर पीने से मिलते हैं। 

नींद ना आने की समस्या से आराम
रात को सोने से पहले एक गिलास दूध में मात्र एक चुटकी जायफल का पाउडर मिलाकर पीते हैं तो इससे दिमाग रिलैक्स होता है और स्ट्रेस दूर भागता है और नींद आने में मदद मिलती है। इनसोमनिया की समस्या में जायफल को दूध में मिलाकर पीने से राहत मिलती है। 

दर्द में आराम
जायफल में कई तरह के तेल की मात्रा होती है, जिसमे एंटी इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज होते हैं। जिसकी वजह से मसल्स और ज्वॉइंट पेन में फायदा पहुंचाते हैं। जायफल के तेल की कुछ बूंद को दर्द वाले हिस्से पर लगाने से आराम मिलता है। 

सर्दी-जुकाम से राहत
ठंड के मौसम में रोज रात को सोने से पहले दूध में जायफल मिलाकर पीने से सर्दी-जुकाम की समस्या से आराम मिलता है। 

डाइजेशन में आराम
पेट में गैस, अपच, बदहजमी होने पर दूध में जायफल मिलाकर पिएं। इससे डाइजेशन में राहत होती है। साथ ही दूध और जायफल का कॉम्बिनेशन मेटाबॉलिज्म को भी सही करता है। 

स्किन और बालों के लिए फायदेमंद
जिन लोगों को स्किन में जलन, झाईयां, एक्ने परेशान करते हैं। उन्हें दूध में जायफल मिलाकर चेहरे पर लगाने से फायदा होता है। 

जायफल लेते समय रखें इन बातों का ध्यान
जायफल को रोज की डाइट में लेने से पहले एक्सपर्ट की राय अवश्य लें। 
साथ ही 5 ग्राम से ज्यादा जायफल को खाने से कई तरह की सेहत से जुड़ी परेशानियां पैदा होने लगती है। इसलिए जायफल के इस्तेमाल में मात्रा का ध्यान रखना बेहद जरूरी होता है। 

डिस्क्लैमर:  यह लेख मात्र सामान्य जानकारी के लिए है। इसे किसी विशेषज्ञ की राय के तौर पर ना लें।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें